सहेली को सेक्स टॉय का मज़ा चखाया

मेरा नाम मानसी है और मैं 29 साल की कामुक महिला हूँ। मेरी शादी को 4 साल को चुके है और मेरा पति मुझे आज तक चरम सुख नही दे पाया। मेरी कहानी सहेली को सेक्स टॉय का मज़ा चखाया में आप जानेगे कैसे मेने अपने सहेली को सेक्स टॉय से चोदा। 

ये सब लॉक डाउन से पहले हुआ। मैं नॉएडा में रहती थी और वही किसी ऑफिस में काम कर रही थी। मेरा पति दूसरे ऑफिस में काम करता था। चुदाई के दौरान मेरा पति का लिंग ढीला रहता था और वो दलदी अपने लंड से पानी छोड़ देता था। मुझे अपनी सेक्स लाइफ में आज तक सुख नहीं मिला इसलिए मैं सेक्स टॉय खरीदने लगी।

सेक्स के खिलौने से मैं अपनी चुत सहलाती थी। मेरे पास एक मछली जैसा रबर का खिलौना था जो रिमोट से हिलता और काँपता (vibrate) था। मैं उसे अपने थूक से गिला कर के अपनी चुत में डाल कर मज़े लेती थी। वो मेरी चुत में काँपता तो मुझे बड़ा मज़ा अत। 

वो खिलौना टीवी के रिमोट जीना बड़ा होता है और उसको मैं अपनी चुत मैं पूरा अंदर डाल देती थी सिर्फ उसकी पूछ बहार रहती थी जिसको खींच कर मैं उसे वापस निकाल सकती थी। 

एक रत मुझे कामुक सपना आया जिसकी वजह से मेरी पूरी चुत गीली हो गई। सुबह जब मैं उठी तो मेरा मन हस्तमैथुन यानि मुट्ठी मारने का कर रहा था। पर मुझे वक्त पर ऑफिस भी जाना था तो मेने अपना सेक्स वाला खिलौना अपनी चुत में डाला और काम पर चली गई। 

उस खिलौने से मैं अपनी चुत पूरा दिन झुंझुनाती रही और अपनी जगह बैठे बैठे सेक्स का मज़ा लेती रही। किसी और नही पता था की मेरी चुत अभी कितनी गीली है और मैं कितनी कामुक।

जब मेरी चुत पानी छोड़ने वाली थी तो मैं जल्दी से टॉयलेट की तरफ भागी और सब मुझे देखने लगे। फिर भी मैं टॉयलेट गई और अपनी चुत से पानी निकाल कर वापस आ गई। 

जब ऑफिस के दूसरे लोगो ने पूछे की तुम ठीक तो हो ना तो मेने कहा बस थोड़ी उलटी आ रही थी। 

मेरी ये बात सबने मान ली पर मेरी सहेली मुझे देख कर सब समज गई थी। वो मेरे पास आई और मेरे कान में बोलै ” मुझे पता है तुम क्या कर रही थी। “

मेने कहा – मतलब ?? मैंने क्या किया?

शिवानी – अभी जब तुम टॉयलेट गई थी। मुझे पता है वो क्यों गई थी। 

मुझे शर्म आने लगी और मेने शिवानी की बात का कोई जवाब नही दिया। 

शिवानी – पर मुझे समज नही आया की एक जगह बैठे बैठे ऐसा कैसे हो सकता है। 

उसने मेरी तरफ देखा और मुस्कुरा कर फिर पूछा। 

मेने अपना सेक्स टॉय निकला और शिवानी को एक झलक दिखा कर वापस बैग में डाल लिया। 

शिवानी – ये क्या है? 

मेने कहा – इसको सेक्स टॉय बोलते है। मेने इसको अपनी चुत में डाल रखा था आज पूरा दिन। और ये इसका रिमोट है एक बटन दबाते ही ये मेरी चुत में हिलने लगता है। जिसकी वजह से में आज पूरा दिन सेक्स का मज़ा लेती रही। 

शिवानी – अच्छा ऐसे चीज़े भी होती है क्या? मुझे तो पता ही नही था। 

मेने शिवानी को बताया की मेरे पास और भी है क्या तुम इस्तेमाल करना चाहोगी? 

उसने हाँ कहा। मेरा पति हर शनिवार अपने दोस्तों के साथ पूरी रत घूमने जाता है इसलिए मेने उसको शनिवार की रत अपने घर बुला लिया।

उस रत पहले तो हम दोनों ने नशा किया और फिर मेने शिवानी को अपनी चुत गीली करने को कहा। 

शिवानी – मैं ऐसे कैसे कर सकती हूँ। मैं अभी कामुक महसूस नहीं कर रही।

मेने कहा – पहले अपने कपड़े उतारो और पैर खोल कर अपनी चुत सेहलाओ। 

शिवानी ने वही किया जो मेने कहा पर फिर भी उसकी चुत पूरी तरह से गीली नही हो पाई। हम नशे में थे इसलिए हमें सब अच्छा लग रहा था। 

मेने शिवानी की चुत चाट कर उसे गिला किया और अपना सेक्स टॉय उसकी चुत में घुसा दिया। 

फिर मेने शिवानी को चूमा और उसकी आँखों में देखते हुए रिमोट का बटन दबा दिया। 

शिवानी भी मेरी आँखों में देखते हुए मजे से कापने लगी। मैं अपने मन मर्जी से वो खिलौना चालू करती तो कभी बंद। 

शिवानी अपने स्तन दबाने लगी और अपनी चूची को खींचने लगी। 

मजे से कपकपाती शिवानी हल्की हल्की आवाजे करने लगी और मैं भी उसके स्तन धीरे धीरे  चाटने लगी। 

उसकी काली चुत से निकलता सेफ पानी मेरी लेस्बियन अन्तर्वासना को बढ़ा रहा था। 

फिर मेने दूसरा खिलौना अपनी चुत में डाला और शिवानी को उसका रिमोट दे दिया। हम एक दूसरे के सामने बैठे एक दूसरे को गन्दी कामवासना की नजरो से देख रहे थे। कभी मैं शिवानी को मजा दिलाती तो कभी वो मुझे। 

शिवानी की कमर पतली थी और उसका निचला शरीर काफी सुडोल और भारी था। उसके जैसा शरीर पाना मेरा एक ख्वाब था। मेरी गांड से मोठे तो मेरी स्तन थे लोग मेरा चेहरा नही मेरे स्तन देखे थे जो मुझे पसंद नही था। मैं चाहती थी मेरी भी शिवानी जितनी गोल और बड़ी गांड हो जिसको मटकते हुए मैं पुर ऑफिस में घुमु। 

खेर ऐसा पता नही कब होगा। कुछ देर चुत का खेल खलने के बाद मेरी चुत से पानी निकला। 

शिवानी ने जल्दी से खिलौना बाहर निकला और अपनी चुत में जोर जोर से ऊँगली करने लगी। मेने तभी अपना नया सेक्स टॉय निकला जो की रबर का बड़ा सा लंड था। उस लंड से मेरा पति मेरी चुत चोदता था जब उसका जल्दी निकल जाता था। 

मेने जल्दी से शिवानी का हाथ हटाया और उसकी चुत में वो लोडा घुसा दिया। लंड डालते ही शिवानी चीला पड़ी और सेक्स का दर्द भरा मीठा एहसास का मजा उठाने लगी। मेने उसके मुँह पर अपनी गांड रख कर बैठ गई और उसकी चुत और जोर जोर से चोदने लगी। 

शिवानी – और जोर से !! और तेज कर मानसी बस होने वाला है !!

तभी उसकी चुत से मानो पानी का फौवारा सा निकलने लगा पर फिर भी मैं रुकी नही उस नकली लंड से मैं उसे चोदते हुए मजे लेती रही। फिर कुछ देर बाद शिवानी अपने घर चली गई। 

जब हम ऑफिस में मिले तो एक दूसरे से नजरे नही मिला सके। आखिर जो हुआ वो नशे में हुआ था। शिवानी तो बस मेरे सेक्स टॉय देखने आयी थी। ये थी मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी अगर आपको अच्छी लगी तो कमेंट जरूर करना। 

error: Content is protected !!