रगड़ी चुत से चुत भाग-1

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम करिश्मा है और में एक बारवी क्लास की स्टूडेंट हु। अगर आप लेस्बियन लड़कियों की गन्दी फिल्मे देखना पसंद करते हो तोह मेरी ये सेक्स स्टोरी आपके दिल में उतर जाएगी। मेरी बारवी क्लास ख़तम होने वाली थी ये तब की Lesbian Sex Story है। 

में नौवीं क्लास में थी जब मेने गन्दी फिल्मे देखना शुरू किआ था। उस वक्त में एक प्राइवेट स्कूल में थी जहां पैसे वाली लड़कियाँ और लड़के पढ़ा करते थे। वह सभी के पास खुद के फोन भी हुआ करते थे जो वो चुपके से स्कूल में लाया करते थे। 

क्योंकि मेरा पूरा परिवार इतना अमीर नहीं था, इसलिए उस समय मेरे पास फोन नहीं था। मेरे सभी सहपाठी कक्षा के दौरान एक-दूसरे से बातचीत करते थे और उनमें से कुछ वहाँ मोबाइल पर गेम भी खेलते थे।

एक लड़की थी जिसका नाम मीनाक्षी था जो क्लास रूम में हर दिन मेरे साथ बैठती थी। वह हमारे स्कूल में नई थी इसलिए उसका कोई दोस्त नहीं था। उसके पहले दिन टीचर ने उससे कहा कि पहले मेरे साथ बैठो। उस दिन से हम दोनों दोस्त बन गए और स्कूल के दिनों में अंतहीन बातें करने लगे।

जब उसने देखा कि कक्षा में सभी के पास अपने फोन हैं तो उसने अपना मोबाइल भी लाना शुरू कर दिया। क्योंकि हम दोनों दोस्त थे, उसने मुझे हर दिन उसके फोन पर गेम खेलने दिया। एक दिन गलती से मैंने उसकी फोन गैलरी खोल दी और मुझे कुछ वयस्क फिल्में मिलीं।

मीनाक्षी ने फोन छीन लिया और उसे लॉक कर दिया।

मैंने उससे पूछा कि “वह क्या देख रही है।”

मीनाक्षी ने कहा कि “यह कुछ भी नहीं है।”

मैंने आपके फ़ोन की गैलरी में कुछ गंदे वीडियो देखे।

तो मीनाक्षी ने कहा “क्या तुम भी देखना चाहती हो?”

मेने आज से पहले कोई गन्दी वीडियो नही देखि थी। तो मेने मीनाक्षी को हाँ बोल दिया। उसने कहा मैं तुम्हे लंच में दिखती हूँ।

लंच होने पर सभी बच्चो ने अपना खाना खाया और ग्राउंड में खेलने चले गए। क्लास पूरी खली थी। मीनाक्षी ने अपना फोन निकाला और मुझे कक्षा के कोने में खींच लिया। उसने अपन फोन खोला तो मेने देखा उसके फोन में करीब पचास से भी ज्यादा पोर्न वीडियोस थी।

उसने उनमेसे एक वीडियो चलाई जो की एक लेस्बियन सेक्स वीडियो थी। मेने पहली बार किसी और की चुत देखि थी जो इतनी पिंक थी। वो अंग्रेज लड़कियाँ एक दूसरे को चुम्ब रही थी और एक दूसरे की चुत भी चाट रही थी। उनकी गीली चुत देख मेरी चुत भी पानी पानी हो रही थी। 

मीनाक्षी ने कहाँ “किसी लगी वीडियो?”

तो मेने मुस्कुरा कर कहा “मुझे नही पता था की ऐसा भी होता है।”

मीनाक्षी ने हँसते हुए कहा “होता तो भोत कुछ है।”

उस दिन के बाद से मुझे चुदाई की गन्दी फिल्मे देखने और Indian Sex Stories in Hindi पढ़ने की आदत सी लग गई थी। मुझे लेस्बियन सेक्स और लड़कियों में काफी दिलचस्पी थी। और वो दिलचस्पी मेरी आज तक कायम है। 

बारवी क्लास तक मेरी और मीनाक्षी की गहरी दोसी हो चुके थी। कई बार हम साथ बैठ के पोर्न भी देखा करते थे। हम दोनों लेस्बियन लड़कियों की वीडियो देखना और अपनी गीली चुत पे हाथ फेरना अच्छा लगता था।    

पता नही क्यों बारवी क्लास तक आते आते भी मेरे स्तन उतने बड़े नही हुए जितना म चाहती थी। मेरे स्तन नही थे पर मेरी गांड रसीली और मोटी हो चुके थी। क्लास के लड़के किसी न किसी वजह मेरी गांड छुआ करते थे और मुझे अच्छा भी लगता था। 

साथ ही साथ मीनाक्षी के स्तन भी कुछ ज़ादा भारी हो चुके थे। उसकी ब्रा उसके स्कूल की ड्रेस से देखती थी और सभी उसे कामुक नज़रो से देखते थे। मुझे उसके स्तनों की वजह से उसे से जलन होती थी। में गन्दी वीडियो देख देख अपनी चुत में ऊँगली कर कर के बोर हो चुके थी। अब मुझे रियल में सेक्स करना था पर किसी लड़के के साथ नही किसी लेस्बियन लड़की से साथ। 

सबसे पहला ख्याल तो मेरा मीनाक्षी के साथ सेक्स करने का था पर मुझे समाज न आया की ये बात मैं उसको कैसे बोलू। मेने हिमत करके बोलने का सोचा पर मैं ये सब स्कूल में नही बोल सकती थी तो मेने उसको स्कूल के बाद अपने घर बुलाया।

जब मीनाक्षी मेरे घर आई तो मैं उसको अपने कमरे में ले गई। पापा काम पर गए गए थे और मम्मी दोपहर में सोती थी। मेरा घर तीन मंजिला है जिसमे मम्मी सबसे निचे वाले में सो रही थी। में अपने माँ बाप की एकलौती बेटी हूँ इसलिए मुझे उनका साला सारा लाड प्यार मिलता था । इसलिए उन्हों ने मुझे एक अलग कमरा दिया हुआ था। 

मीनाक्षी को मेने नई फिल्म देखने के बहाने घर बुलाया था। मेने अपने कंप्यूटर पर फिल्म लगाई और हम दोनों देखने लगे। अपनी Antarvasna की वजह से फिल्म देखते देखते मैं मीनाक्षी को थोड़ी थोड़ी देर बाद गन्दी नज़रो से देखने लगी। 

जिस लड़की ने मुझे लेस्बियन बनाया था आज मैं उसकी चुत चाटने को बेताब थी। मीनाक्षी भोत गोरी थी और जैसा की मेने बताया उसके स्तन भी भोहत भारी और बड़े थे। उस दिन मीनाक्षी ने सफ़ेद सलवार सूट पहना थे। सूट पे हल्का हरा डिज़ाइन बना था। सूट का कपडा पतला था तो मुझे उसकी हलकी पिंक ब्रा दिख रही थी और सूट के गले से उसके चुचे भी।  

मीनाक्षी पतली और गोरी लड़की थी साथ ही उसके स्तन भी काफी भरे और भारी थे। स्कूल की काफी लड़कियाँ यहाँ तक की टीचर्स भी उसके फिगर और स्तनों से जलती थी । पर मुझे जलन तो थी ही पर उस से ज्यादा उनसे प्यार भी था। में उन्हें एक बार पकड़ कर उनसे खेलना और दबाना चाहती थी। मुझे पता था की अगर वो इतनी गोरी है तो ज़रूर उसकी चुत भी लाल होगी जैसे की इन अगंरेजनो की होती है। 

कुछ आधा घंटा फिल्म देखने के बाद मैंने मीनाक्षी को कहा। “मीनाक्षी मेरे पास एक नई ब्लू फिल्म है चलो देखते है।” उसने हाँ बोला और मेने लेस्बियन फिल्म चालू कर दी। 

उस फिल्म में दो गोरी और सुडौल लड़कियाँ एक दूसरे की चुत से चुत रगड़ रही थी। कभी वो लड़कियाँ एक दूसरे के स्तन चूसते तो कभी चुत पे मुँह मारती । ये देख देख हम दोनों की चुत गीली होने लगी और मैं मीनाक्षी के गुलाबी होठ देखने लगी। मेने देखा की मीनाक्षी अपने दोनों पैर चिपका कर बैठी हुई है। उसके मोठे नरम और रसीले स्तन देख मैं मन ही मन उनको चाटने का ख्वाब देखें लगी। 

मेरी लेस्बियन सेक्स कहानी का अगला भाग पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे (रगड़ी चुत से चुत भाग-2) और कमेंट कर के बताये की आपको मेरी कहानी का पहला भाग केसा लगा।