पडोसी के लंड के द्वारा बहन का उद्घाटन

दोस्तों मेरी बहन की सील मेरे हरामी पडोसी ने तोड़ी और मैं कुछ भी नहीं कर पाया पता है क्यों ?? क्यों की उस वक्त मैं दिमाग से नहीं लंड से सोच रहा था। हेलो दोस्तों मेरा नाम है शिवम् और आज मैं अपनी बहन कनिष्का की चुदाई कहानी सुनाने जा रहा हूँ। मेरी पूरी कहानी में मजे मेरे पड़ोसी और मेरी बहन ने लिए और मैं लंड पकड़ के खड़ा रहा इसलिए मैंने अपनी कहानी का नाम पडोसी के लंड के द्वारा बहन का उद्घाटन रखा है। 

दोस्तों मैं फालतू बाते तो नहीं करुगा और सीधा अपनी बहन की चुत पर आता हूँ। मैं 20 साल का हूँ और मेरी एक बड़ी बहन है जिसका नाम कनिष्का है और वो 24 साल की है। 

मैंने कभी अपनी बहन को सेक्सी नजरो से नहीं देखा था इसलिए मेरी बहन और मेरे बीच काफी अच्छी बनती थी। 

एक दिन जब मम्मी पापा को हमारे सबसे छोटे भाई गुडू के स्कूल जाना पड़ा तो घर पर बस हम दोनों ही बचे। उस दिन मैं भी अपने दोस्तों के साथ बाहर निकल गया। 

जाने से पहले बहन ने मुझे घर के दरवाजे की चाबी दी और कहा तू बाहर से ताला लगा जा मैं आज पूरा दिन सोने वाली हूँ तो वापस आएगा तो खुद खोल लियो। 

उसके बाद मैं चाबी लिया और बाहर निकल गया। कुछ देर बाद जब मुझे लगा की मुझे बुखार है तो मैं वापस आ गया। 

मैं आधे घंटे बाद घर आया और दरवाजा खोल कर अंदर चला गया। 

मैंने अंदर अपनी बहन को आवाजे निकली और बुलाया पर वहा कोई नहीं था। 

मैं अंदर गया और अपने कमरे में जाकर सो गया। 

जब मेरी आंख खुली तो मुझे बहन की सेक्सी आवाजे सुनाई देने लगी। 

मुझे नहीं पता था की बहन कहा गई थी और क्यों और उसके साथ कौन सेक्स कर रहा है। 

मैं तो बस सो कर उठा था और मुझे चुदाई की मजेदार आवाजे आने लगी। 

 मैं धीरे धीरे घर के ऊपर वाले फ्लोर पर गया और अपनी बहन के कमरे में देखने लगा। 

अंदर मेरी बहन को मेरा हरामी पडोसी सोनू चोद रहा था। 

सोनू की उम्र 28 साल है और वो एक बेरोजगार और ग्वार था। उसे बॉडीबिल्डिंग का बड़ा शोक था और वो किसी देसी पहलवान जैसा था। 

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

अंदर देखा तो उसने मेरी बहन की गांड पकड़ कर उसे अपने लंड पर बिठा रखा था और उसके खड़ा होकर हवा में चोद रहा था।  

मेरी बहन उसकी छाती से चिपकी हुई थी और अपनी जांघो को उसने सोनू की कमर पर लपेट रखा था। 

सोनू मेरी बहन को उछाल उछाल कर चोदने में लगा था और फट फट चुदाई की आवाज जोर जोर से आ रही थी। 

वो अपनी कमर मेरी बहन की गांड पर जोर जोर से मार रहा था। 

अपनी बहन को नंगा इस हालत में देख मुझे शर्म आने लगी और मेरा लंड भी खड़ा हो गया था। 

मैं आगे बड़ा और दिवार के कोने से उन्हें देखने लगा। 

बहन – अरे रुको मैं थक गई !! अब किसी और तरीके से करते है !!

सोनू – जैसा आप बोलो बेबी !!

मेरी बहन बिस्तर पर लेती और अपनी एक टांग उठा और सोनू को देखते हुए अपनी चुत पर थूक लगाने लगी। 

दोस्तों अपनी बहन का काला भोसड़ा देख मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं उस वक्त मुठ मारने को मजबूर हो गया। 

जिस तरके से वो बड़े शरीर वाला पहलवान सोनू मेरी छोटी और सेक्सी बहन को चोद रहा था वो काफी कामुक था। 

मैं वही खड़ा खड़ा अपनी जीन्स जी जीप खोला और ऍन्ड लंड को हिलाने लगा। 

सोनू जोर जोर से शक्ति प्रदर्शन करता हुआ मेरी बहन की चुत चोद रहा था और उसके स्तनों को अपने हाथो से दबा रहा था। 

मेरी बहन बार बार उसके पेट और हाथो को छू रही थी जिस से पता लग रहा था की मेरी बहन को सोनू कितना पसंद है। 

उसके सोनू का हाथ लिया और उसकी बड़ी वाली उनलगी अपने मुँह में लेकर चूसने लगी। 

वो चूसते चूसते सोनू को देखने लगी और पूरी रंडी वाली हरकते करने लगी। उसे देख सोनू मुस्कुराने लगा और अपनी गांड तेजी से हिला कर चुत में लंड अंदर बाहर करने लगा।  

मैं वही खड़ा अपना लंड हल्के हाथ से हिलने लगा क्यों की मेरा जल्दी निकल जाता था। मैं आराम आराम से अपनी बहन की चुदाई देख कर हस्तमैथुन का आनंद ले रहा था। 

जब मेरी नजर मेरे लंड पर गई तो देखा टोपे से एक लम्बी लार टपक रही थी और मेरा लंड पूरा चुदाई के लिए तैयार था। 

थोड़ी देर चुदाई करते करते सोनू रुका और थोड़ा आराम करने लगा। पर उसे मेरी बहन की चुदाई नहीं रोकी। वो नीचे बैठा और मेरी बहन की चुत में मुँह मारने लगा। 

कुछ देर बाद वो उल्टा होकर मेरी बहन के ऊपर लेट गया और 69 के पोजीशन में उसके मुँह को चोदते चोदते उसकी चुत को खाता रहा। 

मेरी बहन उसके लंड को अपने हलक तक अंदर लेती रही और उसके काले टटो की मार अपने मुँह पर खाती रही। 

दोस्तों मुझे तो काफी मजा आ रह था पानी बहन को इसतरहा सेक्स करता देख।  

सोनू पूरा हवसी था और वो अपनी के साथ साथ मेरी बहन की अन्तर्वासना को भी बुझा रहा था। ऐसा लग रहा था की मेरी बहन का दम उसके लंड से घुट रहा है पर ऐसा नहीं था। 

जब भी सोनू अपनी गांड उठा कर लंड बाहर निकालता मेरी बहन उसके लंड पर थूकने लग जाती। 

उसके बाद सोनू अपना लसलसा थूक से भरा लंड वापस मेरी बहन के मुँह में डाल देता। 

दूसरी तरफ वो चुत चाट चाट और उसका पानी निकालने ही वाला था। 

कुछ देर बाद सोनू ने एक हाथ से चुत चॉदनी शुरू कर दी और अपनी जुबान से भोसड़े को ऊपर से चाटता रहा। 

इतना जबरदस्त एहसास शायद मेरी बहन को पहली बार हुआ था इसलिए वो पागल होने लगी ,

वो जोर जोर से थरथराने लगी और अचानक उसकी चुत से पानी की तेज धार निकली जो सोनू के मुँह में चली गई। 

चुत का गंदा पानी जैसे ही मुँह में गया सोनू दांग रह गया और खांसने लगा। 

चुत के रस से सारा बिस्तर और सोनू का मुँह गन्दा हो गया। 

बस दोस्तों उसकी वक्त मेरा भी निकलने वह था। 

चुत का पानी देखकर सोनू की जंगली हो गया और वो उछाल उछाल और अपनी बहन के मुँह को चोदने लगा। 

वो बार बार उसके मुँह में अपना लंड डाल रहा था और मेरी बहन के मुँह से आंसू निकल रहे थे। 

मेरी बहन पुरे कामुक मूड में सोनू की गांड नोच रही थी और उसका लंड अपने अंदर लिए जा रहती थी। 

तभी सोनू भी कापने लगा और उसके पूरी जान लगा कर मेरी बहन के मुँह को अपनी जांघो के बीच दबोच लिया और अपने लंड को उसके गले के अंदर लेजा कर फसा दिया। 

वो कुछ देर वैसे ही रहा और एक झटके में अपना लंड बाहर निकाल दिया। 

लंड बाहर निकलते ही मेरी बहन जोर से खासी और लंड का गंदा सफ़ेद माल बाहर निकलने लगा। 

सोनू जल्दी से उठा और उसके मुँह को चूमने लगा। 

मेरी बहन खासी रही और उसका माल थूकती रही और सोनू उसके गंदे हाथो को जबरदस्त तरीके से चाटने चूसने में लगा रहा। 

बस उनकी चुदाई तो खत्म हो गई पर मेरी नहीं। 

उन्हें देखे हुए मैंने भी 3 बार अपना लंड जोर से हिलाया और अपना माल कमरे के बाहर गिरा दिया। 

बस फिर क्या मैं वहा से जाने लगा। 

मैं जैसे ही नीचे गया तो ऊपर से किसी के गिरने की आवाज आई। 

आवाज से पता लगा की सोनू बाथरूम जा रहा था और कमरे के बाहर मेरे झाड़े हुए माल पर पैर रख हर फिसल कर गिर गया। 

मेरी बहन उसके संभालने लगी इतने में मैं वापस चुपके से घर से बाहर निकल गया। 

तो दोस्तों ये थी मेरी बहन की सेक्स कहानी। अगर अच्छी लगी तो जरूर बताना। 

[email protected]

error: Content is protected !!