पढ़ाई के बहाने चुदाई 😍😜

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सब लोग मैं योगेश, नैनीताल से आप सभी का स्वागत करता हूं वासना के इस दरिया में। 

अभी मेरी उम्र 24 साल है हाईट 5.8, लंड का साइज 7 इंच है। और मै लखनऊ का रहने वाला और मेरी इस कहानी पढ़ाई के बहाने चुदाई को पूरा पढ़े। 

बात सितंबर 2018 की है जब ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद मैंने मुखर्जी नगर में रहकर बैंक की कोचिंग करने की सोची, मेरा एक दोस्त मुखर्जी नगर में रहकर कोचिंग कर रहा था तो मैंने उसके साथ रहने का मन बनाया और चल पड़ा दिल्ली को।

मुखर्जी नगर ऐसा स्थान है जहां जवान चूतो और लंड की भीड़ रहती है। मैंने डी के क्लासेस का नाम सुना था तो सोचा यहां जाकर देखता हूं। पहले दिन जब मैं डेमो लेने जा रहा था तो मुझे गेट पर वह दिखी साक्षी माहेश्वरी नाम था उसका हाइट 5 फुट 2 इंच रंग सांवला और फिगर 34-28-36 सीधे कहूं तो चोदने लायक टंच माल। हम दोनों ने एक दूसरे को देखा नजरों से नजरें मिली और सेकंड फ्लोर की तरफ चढ़े।

2-3 दिन डेमो क्लास लेने पर स्टाफ फीस सबमिट करने के लिए बोलने लगा और इत्तेफाक से फीस भरने जब मैं ऑफिस गया तो वह भी उसी समय वहीं फीस भरने के लिए बैठी थी। अब हम दोनों अगल-बगल में बैठकर अपनी डीटेल्स बता रहे थे और मैं उसके डिटेल को बड़े ध्यान से सुन रहा था जो कि बाद में मेरे काम आई।

एक-दो दिन में टीचर्स ने व्हाट्सएप ग्रुप बनाने के लिए बोला उस ग्रुप में हमारे बैच के सभी स्टूडेंट के नंबर थे मेरी हीरोइन का भी। वैसे ग्रुप बनाया तो डाउट दूर करने के लिए था पर सबको पता होगा की तैयारी करने वाले बच्चे कितने बकचोद होते हैं। खैर कोचिंग सही चल रहा था मैं उसे देखता वो मुझे देखती पर समझ नहीं आ रहा था बात शुरू कैसे हो। इसी दौरान मेरा एक दोस्त बना जो यूपी का था और था एक नम्बर का लोंडियाबाज बकचोद लडका। शाम को कोचिंग से आते टाइम उसने मुझे एक आईडिया दिया बोला यह नंबर उस लड़की का हो सकता है( लग तो मुझे भी यही रहा था ) जब भी ये ग्रुप में मैसेज करें तो तू इसे पर्सनल मैसेज करके पूछना आप कौन हो आइडिया अच्छा था मैं थोड़ा अन्तर्मुखी हूं तो यह कभी सोचा नहीं।

रात को ग्रुप में बोलचाल हुई तो मैंने उस नंबर पर मैसेज किया और पूछा तुम्हारा नाम क्या है ? तो उसका जवाब आया Eye Witness ( मतलब साक्षी या गवाह ) रिप्लाई देखकर मेरी धड़कन तेज हो गई मुझे 2 मिनट लगे उसके रिप्लाई को समझने में पर मजा आया की लड़की बकचोद है जल्दी दे सकती है। मेरी प्रोफाइल मैं योगेश नाम लिखा था जिससे वह मुझे पहचान गई पर उसके नंबर में इमोजी बने थे जिस वजह से मैं श्योर नहीं था अभी तक। और यहीं से हमारी बातें शुरू हो गई। 

मैंने उसे बताया कि हम दोनों ने एक साथ फीस जमा करी थी पर उसे ध्यान नहीं था पर मैं बोला – कि मुझे तो आपके पापा का नाम तक याद है उसने पूछा बताओ तो तो मैंने मैसेज किया “दया दरवाजा तोड़ दो” ( क्योंकि उसके पिता का नाम प्रदुमन था जो की CID show का कैरेक्टर भी है ) इस बात पर उसने हंसने वाले इमोजी भेजें फिर बात चलती रही हमने कौन कहां से है क्या पढ़ाई करी क्या पढ़ना पसंद-नापसंद है यह सब बातें शेयर करी और हमारी रोज थोड़ी थोड़ी चैटिंग होने लगी हमने इंस्टाग्राम पर एक दूसरे को फॉलो भी किया अब हम एक दूसरे के अच्छे दोस्त बन चुके थे।

 फिर नवंबर शुरू हुआ और दिवाली आने वाली थी उसे टिकट बुक करने में प्रॉब्लम हो रही थी तो मैंने बोला मैं कर देता हूं और जैसे तैसे मैंने दिल्ली से लखनऊ की ट्रेन का टिकट कंफर्म कर दिया और यह जानकर वह बहुत खुश हुई। दिवाली भी चली गई पर मुझे समझ नहीं आ रहा था कि इस पटाखे को कैसे बजाऊं।

 जैसे जैसे समय बढ़ता जा रहा था हमारी नज़दीकियां भी बढ़ती जा रही थी हम एक दूसरे के साथ डबल मीनिंग बातें व नॉनवेज मीमस(meme) भी शेयर करने लगे फिर एक समय आया जब मैं ग्रुप स्टडी के लिए उसके रूम पर जाने लगा।

 यह दिसंबर का महीना था और ठंडी पड़ रही थी एक शाम हम दोनों पढ़ रहे थे हमने एक ब्लैंकेट उड़ा था जो हमारे घुटनों तक था कभी-कभी उसके और मेरे पैर आपस में टच हो रहे थे आज उसके हाव-भाव कुछ बदले से थे। आज माहौल कुछ रोमांटिक सा था। उसने रेड कलर की एक स्वेटर पहनी थी जिसका गला काफी डीप था।

फिर वह मैं मैगी बनाती हूं बोलकर किचन में चली गई मुझे टॉयलेट आई और मैं वॉशरूम की तरफ चला मैं पहले भी उसका वॉशरूम यूज कर चुका था पर आज कुछ अलग था आज वाह लाल रंग की ब्रा लटक रही थी। 

और एक मादक सी खुशबू थी। मैंने ब्रा पकड़ कर देखा तो उसमें 86cm(34 inch) लिखा था उसे छूते ही मेरा लंड खड़ा हो गया मैंने ब्रा को अपने लंड में लपेटा और हिलाने लगा लंड मानो फटने को तैयार। अब मैं उससे उसी टाइम पटक कर चोदना चाह रहा था। 

मैं ब्रा वेसे ही लटका कर वापिस रूम में आ गया पर मुझे यह बात कुछ खटकी शायद उससे भी अब नहीं रहा जा रहा था पर साली चाहती थी की पहल में करूं। मेरा लौड़ा अभी भी कडक था और लोअर में तंबू बना रहा था तो मैंने कम्बल पूरा कमर तक ढक लिया। इतने में वह दो प्लेट मेगी लेकर आई 

अब मैंने उससे कुछ पर्सनल बातें जैसे कि तुमने बॉयफ्रेंड को कभी किस किया है बातें करने लगा। 

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

वह भी खुलने लगी क्योंकि ऐसी बातें करना हमारे लिए आम था।अचानक उसने मुझसे पूछ लिया यह ब्लैंकेट क्यों ओड़ा है इतनी सर्दी लग रही है क्या और यह बोलकर उसने ब्लैंकेट खींच लिया और मेरी लोअर में बड़ा सा तंबू बना हुआ देखा और शर्माने लगी फिर बोली – यह खड़ा क्यों है 

मैंने बोला – आज तुम्हें देखकर कुछ हो रहा है और उसकी आंखों में चमक आ गई जैसे कोई खजाना मिल गया हो। 

मैंने पूछा – क्या कभी अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स किया है?!! 

उसने – हां बोला फिर एक तो सेकंड चुप रहने के बाद वह बोली – पर मजा नहीं आता उसका बहुत छोटा है!! 

इसी पर मैंने उससे पूछा तो उसके साथ क्यों हो वह बोली की लोकेश(उसका bf)मुझे बहुत प्यार करता है और मैं उसी से शादी करूंगी फिर वह चुप हो गई, अब मैं बहुत गर्म हो गया था हम दोनों अगल-बगल में ही बैठे थे। 

उसकी नजर मेरे तंबू पर थी और आंखों में एक अलग सी चुदासी जैसे मानो कह रही हो आओ मुझे खा जाओ मुझसे रहा नहीं गया मैंने अपना एक हाथ आराम से उसकी जांघ पर रखा और धीरे से पूछा तो कैसे बुझाती हो अपने प्यास को हम दोनों की आंखों में वासना डोल रही थी। 

दोनों के चेहरे लाल थे बस कौन पहल करें इस बात का इंतजार था तो वह बोली कि – लखनऊ मैं उसके और भी दोस्त हैं जो उसे खुश करते हैं पर दिल्ली मैं ऐसा कोई मिला नहीं उसके इतना बोलते ही मैंने सीधे अपने होंठ उसके होठों से मिला दिए और उसे कसकर पकड़ लिया उसने बिना किसी प्रतिरोध के मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया हम दोनों ही पागल हो रहे थे। 

फिर मैं बोला – अब तुम्हें किसी की जरूरत नहीं होगी और एक दूसरे को जल्दी से जल्दी नंगा कर रहे थे कपड़े उतरने के बाद हम दोनों ने अपना होश हवास खो दिया और एक दूसरे के शरीर पर टूट पड़े मानो एक दूसरे को खा ही जाएंगे मैं अचंभित था की इतनी शांत दिखने वाली लड़की के अंदर वासना का ऐसा तूफान भी हो सकता है। 

फिर मैंने उसके 34 इंच के बड़े-बड़े चूचक को मचलना शुरू किया और उसने कहराना शुरू किया वह मेरा लौड़ा देख कर पागल हुए जा रही थी शायद उसने इतना बड़ा पहली बार देखा था फिर वह बोली जल्दी से डाल दो अपने इस मोटे लंड को मेरी चूत में बहुत टाइम से प्यासी हूं। 

मैंने जल्दबाजी ना करते हुएं पहले उसकी गर्दन और चूचियो को खूब चूसा व चाटा उसकी छोटी सी चूत को उंगलियों से टटोला और हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए क्या बताऊं – क्या मीठी चूत थी!!! 

उसकी यार मजा ही आ गया और चूसने मैं तो उसका कोई जवाब नहीं था जैसे प्रोफेशनल हो फिर हम दोनों से रहा नहीं गया और मैंने दरिया में डुबकी लगा दी चूत में लंड डाल दिया उसने काफी टाइम से सेक्स नहीं किया था। 

तो उसे शुरू में थोड़ा दर्द हुआ वह बोली आराम से कर बहनचोद मैं उसके मुंह से गाली सुन कर और ज्यादा उत्तेजित हो रहा था फिर मुझे कुछ नहीं सूझा और मैं ताबड़तोड़ झटके मारने लगा वह भी पागलों की तरह चिल्लाने लगी – हां!! मजा आ रहा है!!! आअअअअहा!! अअअहा!!! आहहहह!!! 

कुछ देर तक झटके मारने के बाद हमने पोजीशन चेंज की और डॉगी स्टाइल मैं आ गए। उसे कुतिया बनाकर पीछे से चूत मारने मैं बड़ा मजा आ रहा था। 

उसकी बड़ी सी गांड़ को मैं कभी नहीं भूल सकता मैंने उसकी गांड़ पर चपेट लगा कर लाल कर दी थी जो मुझे और ज्यादा पागल बना रही थी।हम दोनों ने ही काफी टाइम से सेक्स नहीं किया था तो हमने काफी देर तक अलग-अलग पोजीशन में सेक्स किया कभी वह मेरे ऊपर कभी मैं उसके ऊपर उसने इतना बड़ा लौड़ा पहले कभी नहीं लिया था वह तो मानो भांग के नशें मैं सुन पडी हो बस – अआआआहहह!! ऊऊहहहह!!! की आवाजें निकाल रही थी। 

काफी देर तक चुदाई के बाद हम दोनों की वासना शांत हुई और हम वैसे ही निढाल हो कर सो गए।

और जब तक कोचिंग पूरी नहीं हुई तब तक हमारा जब मन करता हम चुदाई करते।

तो किसी लगी आप लोगो मेरी अन्तर्वासना कहानी उम्मीद करता हु मुठ मारे होंगे आपलोग। अगर मुठ मारी तो !! कहानी कैसी लगी मेल जरूर बताएं ताकि मुझे आगे कहानी लिखने का प्रोत्साहन मिले जिसमें कैसे मैंने एक कपल के साथ थ्रीसम किया यह लिखूंगा।

मेल – [email protected]

आपका अपना योगेश ( मनोज)

error: Content is protected !!