मोटी औरत की चुदाई

मोटी औरतो को तो आप रोज ही बाजार में देखते होंगे पर क्या आपको पता है की ऐसी औरते कितनी जबरदस्त चुदाई पसंद करती है ? नहीं न तो इसलिए आज पको पंकज की कहानी मोटी औरत की चुदाई जरूर पढ़नी चाहिए। 

दोस्तों मेरा नाम है पंकज और मेरी उम्र 20 साल है और आज मैं आपको यहाँ अपनी आंटी सेक्स स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ। इस कहानी में न तो मैंने किसी की चुदाई की और न ही किसी ने मेरे साथ। मैंने जो देखा वो मैं यहाँ लिखने जा रहा हूँ। 

 मैं अक्सर गर्लफ्रेंड के साथ होटल में सेक्स करने जाया करता था और उस दिन भी गया था। मुझे भरी और चर्बी वाली लड़किया ज्यादा पसंद थी पर मेरी गर्लफ्रेंड वैसी नहीं थी। 

उसके साथ मैं इसलिए था क्युकी वो पटी ही बड़ी मुश्किल से थी और कोई लड़की से मेरी सेटिंग आज तक नहीं हो पाई। 

तो मैं उस दिन होटल में था अपनी गर्लफ्रेंड के साथ वो होटल मुंबई के किसी खराब इलाके का था जहा लोग आते ही चुदाई करने थे। 

मैं वहा करीब रात के 12 बजे गया और अपने कमरे में अपनी गर्लफ्रेंड को 2 बजे तक चोदता रहा। हम ये सोच कर गए थे की आज पूरी रात चुदाई और रोमांस करेंगे क्यों की कम लॉकडाउन की वजह से काफी महीनों से नहीं मिले थी। 

अगर हम साथ रह रहे होते तो मैं लॉकडाउन में सेक्स करता और अपनी गर्लफ्रेंड को चुदाई का माल बना देता। 

खेर रात के करीब 1:30 को मेरा माल झड़ गया और मैं आधी घंटे तक अपनी गर्लफ्रेंड को अपनी सीने से लगा कर लेटा रहा। हमने काफी जबरदस्त और जोरदार सेक्स किया था इसलिए मेरे लंड की माल खा खा कर मेरी गर्लफ्रेंड थक कर से गई थी। 

तभी मेरे घर से मेरे बाप का फ़ोन आया। जैसे ही मैंने उठया मेरे बाप ने पूछा ” कहा है रे इतनी रात को ?? “

मैं जल्दी से कमरे से बाहर निकला और अपने बाप से बात करने लगा मैंने कहा ” दोस्त के घर हूँ आज मैं यही रुक कर पढ़ाई करुगा मम्मी को बताया था मैंने। “

उसके बाद मैंने फ़ोन रखा और कमरे में दोबारा जाने लगा तभी मुझे पलंग हिलने की जोर जोर से आवाजे आने लगी।

ध्यान से सुना तो पता लगा की वो मेरे सामने वाले कमरे से आ रही थी। उस वक्त आधी रात को सब अपने कमरे में थे और कोई चुदाई कर रहा था तो कोई सिर्फ सो रहा था।

मैं दरवाजे पर कान लगाया तो सुना ” अहह और जोर से और जोर से येह !!!! “

मुझे किसी औरत की आवाज आ रही थी और मैं सोचने लगा की इतनी जबरदस्त चुदाई कौन कर रहा है जो ये औरत इतनी पागल हो रही है। 

मैं दरवाजे की चाबी के छेद से अंदर देखने लगा तो मुझे किसी आदमी की गांड दिखाई देने लगी। 

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

वो आदमी अपनी गांड हिला हिला कर किसी की चुदाई कर रहा था। 

मैंने धीरे से दरवाजा खोला तो वो खुल गया। अब ये तो उनकी गलती थी थी उन्होंने दरवाजा बंद नहीं किया। 

मैं हल्का सा दरवाजा खोल कर अंदर देखने लगा। 

अंदर एक मोटी औरत की चुदाई एक पतला आदमी कर रहा था। 

आंटी के स्तन काफी बड़े बड़े थे और उनके पुरे शरीर पर तेल लगा हुआ था। वो पतला आदमी उछाल उछाल अपना लंड आंटी की गुफा में डाल रहा था। 

अब इतने अश्लील होटल में भला पति पत्नी थोड़ी सेक्स करने आएंगे। मुझे पता था की उन्दोनो का नाजायज़ संबंद था। 

वो लड़का कुछ बॉडी बिल्डर जैसा था। वो ज्यादा लम्बा चौड़ा तो नहीं था पर फिर भी ऐसी चुदाई कर रहा था जैसे आंटी मार ही देगा। 

आंटी की बड़ी लाल बिंदी देख मैं समझ गया की वो बंगाली है। और बंगाली आंटी तो गांड तोड़ चुदाई मांगी है। 

वो लड़का आंटी की मोटी जांघो को कभी चूमता तो कभी चाटता और वो आंटी कभी हिंदी में गालिया देती तो कभी बंगाली में। 

अपनी पसंद की औरत को सेक्स करता देख मेरा लटका लंड भी वापस से खड़ा हो गया  

पर मैं अपनी गर्लफ्रेंड को दोबारा चोदने नए गया बल्कि मैं वही खड़ा अपना लंड सहलाने लगा। आंटी के मोटे स्तन बड़ी गांड और रस भरी जाँघे मेरे लिंग से टपकी लार को बढ़ा रही थी। 

कुछ ही देर मैं मेरे टटो में उबाला आने लगा और मैं वही खड़ा अपने लंड को हिलाने लगा। 

वो लड़का आंटी के पुरे शरीर को चूस चूस कर चोद रहा था दोस्तों। अपनी पतली कमर हिला हिला कर वो आदमी कभी आंटी के स्तनों को चुस्त तो कभी उनके नरम पेट और चूमता। 

आंटी – अहह कितने हरामी तो तुम अभी तक नहीं थके !!!

आदमी – नहीं नहीं अभी देखो तुम्हारा क्या हाल करता हूँ !!

वो आदमी आंटी की एक जांघ अपने सीने से लगाया और अपने हाथ उसपर लपेट कर आंटी के पैर का अंगूठा चूसने लगा। 

आंटी सेक्सी आवाज में हसने लगी और अपनी चुत के ऊपरी हिस्से पर हाथ चलाती रही।  

वो आदमी अपनी गांड हिला कर चुदाई करता रहा और आंटी की अंगूठा थूक लगा लगा कर चाटता रहा। ऐसा लग रहा था जैसे वो आदमी आंटी की गुलामी कर रहा हो। 

वो हर वो काम कर रहा था जो आंटी उसे करने को बोल रही थी। आंटी कभी घोड़ी बनकर अपनी गांड चटवा रही थी तो कभी चुत। 

कुछ भी कही दोस्तों मोटी आंटी थी बड़ी सेक्सी। उनकी बड़ी बड़ी सुंदर आंखे और पेरो की पायल की आवाज साथ में हाथो की चुडिया ऐसी आवाज कर रही थी जैसे कोई अप्सरा बिस्तर पर लेटी हो। 

वो आदमी कुछ देर चुदाई करने के बाद आंटी के मुँह के ऊपर अपना लंड लटका कर खड़ा हो गया। मुझे नहीं पता की वो अपनी मर्जी से वह खड़ा था या आंटी के कहने पर। 

दोस्तों आंटी जबरदस्त तरीके से अपने ऊपर लटके स्तन और अंड को चूसने लगाई। 

वो आदमी दर्द से आवाजे निकालता रहा पर आंटी एक पल भी नहीं थमी और लगातार उस आदमी की दोनों गोटिया चूस चूस कर उसका लंड हिलाती रही। 

साथ में अपने दूसरे हाथ से अपनी चुत में तेन उंगलिया भी देती रही। 

तो दोस्तों इसी तरह कुछ देर में मेरा भी निकल गया और उस आदमी का भी। 

तभी पीछे से मेरी गर्लफ्रेंड ने मेरे कंधे पर हाथ रख कर मुझे पीछे खींचा और एक जोरदार चाटा मेरे गाल पर धर दिया। 

चाटा मरने के बाद वो वहा से चली गई और मैं वही अपने हाथ लंड लिया खड़ा रहा। 

उसके बाद जो हुआ मैं बताना नहीं चाहता इसलिए मैं अपनी कहानी मोटी औरत की चुदाई यही समाप्त करता हूँ।  

error: Content is protected !!