सेक्सी कामुक मां बेटे की चुदाई बाथरूम में

लॉकडाउन की वजह से बहुत सारे लोग घर में ही बंद हो कर रह गए हैं। जिस वजह से लोगों को अपनी कई सारी इच्छाएं और वासनाओं को दबाना पड़ता है। परंतु कोई इसे दबा पाता है, और कोई इसको नहीं। अंतर्वासना कोई भी रिश्ता-नाता नहीं देखती है, यह बस अपनी वासना को पूरा करने में यकीन रखती है।

ऐसी ही एक जबरदस्त कहानी है सेक्सी मां बेटे की चुदाई बाथरूम में। इस कहानी में हवस की पूजारन माँ सारे रिश्ते नाते भूल जाती है अपनी अंतर्वासना को शांत करने के लिए। 

मां का नाम शीला था और उन्होंने दूसरी शादी करी थी। शीला ने जिस से शादी की थी वह शीला से उम्र में बड़ा था और उसका एक कॉलेज जाता एक बड़ा बेटा भी था।

शीला की उम्र और उसके पति की उम्र में लगभग 10-15 साल का फासला था। जिसकी वजह से शीला का पति उसे कामवासना और शारीरिक इच्छाएं में संतुष्टि नहीं दे पाता था। 

शीला एक जवान और हसीन औरत थी जिसकी वासना दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही थी। लॉकडाउन की वजह से उसका पति घर से काम कर रहा था। 

पहले तो शीला को लगा आप पति घर से काम करेगा तो वह उसकी शारीरिक जरूरतों को पूरा करेगा। परंतु इसके उलट काम के टेंशन में वह बिल्कुल भी शीला के ऊपर ध्यान नहीं दे पाता था।

शीला का सौतेला बेटा काफी तगड़ा और एक हैंडसम लड़का था। शीला अक्षर उसे हवस की नजरों से देखती रहती थी और यह सोचती थी – काश, मैंने इस चुटिया बुड्ढे से नहीं बल्कि इसके बेटे से शादी कर ली होती।

शीला एक दिन, Maa beta sex story पढ़ रही थी और स्वयं को संतुष्टि दे रही थी। यह गंदी कहानियां पढ़ते-पढ़ते वह अपने बड़े-बड़े स्तनों के साथ खेलने लगी। और अपनी चूत में उंगली भी करने लगी बहुत जोर जोर से।

परंतु उसे इस बात का एहसास हुआ यह काफी नहीं है उसकी शारीरिक संतुष्टि मिटाने के लिए।

उसने सोचा उसे अपने सौतेले बेटे को अपनी तरफ मोहक करना पड़ेगा। ताकि शीला अपनी शारीरिक जरूरतें पूरी कर सके उसने जवान और मजबूत लड़के के साथ।

शीला रोज-रोज नई-नई साड़ी पहनती थी जिससे वह और भी ज्यादा सेक्सी लगती थी। उसका पति दूसरे कमरे में अपना काम करता रहता था और यहां शीला अपना काम चला रही थी। 

उसका बेटा रोहित शीला की तरह धीरे-धीरे आकर्षित होने लगा था।

और जब वह पढ़ाई करता था तो शीला उसके पास आकर बैठ जाती थी और उसे बातें करने लगती थी। बातों ही बातों में शीला अपना पल्लू नीचे गिरा देती थी जिसे ब्लाउज से बड़े-बड़े बाहर आते उसके गोरे-गोरे स्तन दिख सकें। 

यह सब देखते ही रोस्ट का लंड बस खड़ा हो जाता था और उसके लंड से पानी टपकने लगता था।

रोहित के भी मन में धीरे-धीरे अंतर्वासना अपनी सौतेली मां के लिए जाग रही थी। और वह मन में ही सोचता था काश अपनी मां को चोदने का एक बार मौका मिल जाए।

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

रोहित एक दिन टीवी देख रहा था और शीला एक सेक्सी सी ड्रेस में रोहित के लिए कोल्ड ड्रिंक और स्नेक्स लेकर आई। 

वह जानबूझकर रोहित के ऊपर गिर पड़ी। सारी कोल्ड ड्रिंक और स्नेक्स रोहित के ऊपर गिर गए और उसके कपड़े खराब हो गए। और साथ ही शीला के बड़े-बड़े स्तन रोहित के मुंह पर गिरे हुए थे। 

शीलाअचानक से उठी और बोली – मुझे माफ कर दो बेटा…. पता नहीं कैसे मेरा पैर फिसल गया।

रोहित कोई बात नहीं मां, ऐसा हो जाता है। 

शीला – अरे!! कोई बात कैसे नहीं, तुम्हारे कपड़े खराब हो गए, चलो तुम्हारे कपड़े में साफ कर देती हूं।

रोहित – नहीं रहने दो ठीक है मैं अपने आप चेंज कर लूंगा।

शीला – अब शर्माओ मत रोहित, तुम्हारी मां ही हूं मैं…..।

शीला उसे बाथरूम में ले कर चली गई और रोहित के कपड़े धीरे-धीरे उतारने लगी।

रोहित के समझ में सब कुछ आ रहा था परंतु वह भी यही चाहता था।

फिर से लाने सागर ऑन कर दिया और रोहित और शीला दोनों एक दूसरे को अपना वासना रस देने लगे।

शीला का भीगा बदन इतना ज्यादा हॉट और सेक्सी लग रहा था कि रोहित फिर उसके गले लग गया।

और बोला – मुझे पता है मां आप क्या चाहती हो?!!

मां – अगर तुम्हें पता था तो मुझे इतना तड़पाया क्यों?

फिर रोहित फट से शीला को चूमने लगा और उसके होठों को चूसने लगा और अपनी जबान को शीला के मुंह में डाल रहा था जिसे शीला भी चूस रही थी।

अपने मुंह में पानी भरकर शीला, रोहित के मुंह में डाल रही थी और रोहित उसे पी रहा था। दोनों में अच्छी खासी चुम्मा चाहती हो रही थी सिरोही जिला के सारे ब्लाउज के बटन खोल दिए और उसके बड़े-बड़े दूधों को दबाने लगा।

रोहित ने शीला को पूरा नंगा कर दिया और अपने घुटनों पर झुककर शीला की चूत चाटने लगा।

शीला ने अपने हाथों से उसका मुंह पकड़ कर बोली – हां!!! बेटा!!! वही… वही….. चाटो, अपनी मां को!!!

फिर रोहित खरा हुआ और अपनी मां की गांड पकड़ी और अपना मजबूत लंड घुसा दिया। सीला की जबरदस्त चुदाई करने लगा और उसकी गांड को खचाखच चोदने लगा। वो दबा-दबा कर अपनी मां को चोद रहा था।

शीला को आज जाकर कामवासना का आनंद मिल रहा था और वह बोली – हां, बेटा… ऐसे ही चोदो अपनी मां को, तुम्हारा बाप तो चूतिया है, कुछ कर नहीं पाता।

रोहित – हां!! मां!!! मुझे पता है, मेरा बाप तुम्हे शारीरिक संतुष्टि नहीं दे पाता है, और अच्छे से नहीं चोद पाता है।

लेकिन आज मैं तुम्हे चोद-चोद के तुम्हारी पूरी वासना मिटा दूंगा

मै तुम्हरी ऐसी  चुदाई करूँगा, जैसी तुम गन्दी देसी सेक्स कहानी पढ़ती हो।  

माँ – तुम्हे पता है?

बेटा –  मुझे सब पता है, तभी तो तुम्हारे अंदर वासना की आग लगी हुई है

और रोहित ने अपनी रफ्तार बढ़ा दी और शीला की सूचियों को बहुत ही कष्ट अपनी मुट्ठी में दबाकर वह शीला को भर भर के चोदने लगा। फिर उसने शीला को बाथरूम के फर्श पर लिटा दिया और उसके चुचियों के निप्पल को खींचकर शिला की चूत की चुदाई करने लगा।

वह हर बार पूरे जोर और दमखम के साथ शीला की चूत को चोद रहा था और साजिश शीला के बड़े बड़े स्तनों पर चाटे भी मार रहा था।

और बोल रहा था – माँ तुमको मजा आ रहा है क्या? तुमको मेरी चुदाई में मजा आ रहा है….? 

शीला – हां! हां!! बेटा!!! मुझे बहुत मजा आ रहा है….. चोद दो पकड़ कर अपनी मां को!!!!!!

ऐसे ही, ऐसे ही करो बेटा, ऐसे ही करो… आह! आ! आ! आ! अम्म….. 

रोहित और भी ज्यादा ऊर्जा से भर गया और उसने अपनी मां को घोड़ी बनाया और उसकी गांड में अपना लंड घुसा दिया। 

उसकी मां एकदम से चीख पड़ी और बोली – आराम से, मेरे मज़बूत बेटे, मैंने कभी भी गांड में नहीं चुदाई करी है

रोहित बोला – कोई बात नहीं, आज इसका भी एहसास कर लेते हैं। अपने बड़े लंड से अपनी मां की गांड चोदने लगा। इतना ज्यादा कामवासना छुपाकर शीला और भी ज्यादा कामुक होने लगी।

मां – बहुत मजा आ रहा है रोहित! ऐसे ही करो!! इस maa bete ki chudai bathroom mein तो बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है।

और रोहित फटाफट तेजी में अपनी मां को चोदे जा रहा है और शादी उसकी गांड पर थप्पड़ भी मार रहा है

“चटक-चटक”!!

माँ – ओह्ह! आह!! आ! आ…..!

और फिर रोहित और उसकी मां शीला दोनों को चरम सुख की प्राप्ति होने वाली थी। और कुछ ही क्षण बाद दोनों को चरम सुख की प्राप्ति हो गई और रोहित ने अपना सारा माल शीला की चूत में झाड़ दिया।

रोहित – आ………….अम्म माँ……

और उसने अपना सारा वीर्य अपनी मां की चूत में भर दिया।

शीला बहुत ही ज्यादा खुश हो गई और उसकी अंतर्वासना पूरी तरह से शांत हो गई फिलहाल के लिए।

error: Content is protected !!