10 इंच के लोड़े से अपनी चूत की पिटाई करवाई!!

मेरा नाम सुनीता है और यह मेरी अंतर्वासना कहानी है जब मैंने एक काले लंबे चौड़े मोटे हप्सी से चुदवाया। मेरे अंदर कुछ ज्यादा ही गर्मी चढ़ी हुई थी तो मैंने यह गर्मी काले हप्सी के लोगों से चुदवाती मिटाने की सूची।

परंतु उस आदमी की मजबूती और मर्दानगी इतनी ज्यादा थी कि उस काले हब्शी ने चोद के मूत निकाल दिया मेरा।

जैसा कि मैंने कहा मेरे अंदर कुछ ज्यादा ही गर्मी चढ़ी हुई थी और मेरे बॉयफ्रेंड का लौड़ा बहुत छोटा था जिस से मैं संतुष्ट नहीं होती थी। मैंने और भी दो तीन लड़कों से चुदवाया लेकिन उनका लोड़ा मुझे वह शारीरिक संतुष्टि नहीं दे रहा था जिसकी मुझे जरूरत थी।

फिर मैं 1 दिन अपनी एक दोस्त की पार्टी में एक ब्लैक गाय यानी कि काले लड़के से मिली ज्योति अफ्रीका से था। वह बहुत ही लंबा चौड़ा और मजबूत शरीर वाला व्यक्ति था जिसे देखकर मैं उत्तेजित हो गई थी।

क्योंकि मैं भी बहुत ही ज्यादा आकर्षित हॉट और सेक्सी थी उस लड़के की नजर मेरे ऊपर एकदम से पड़ गई जब मैं उससे मिलने गई।

हम दोनों ने काफी अच्छी खासी बातचीत हुई और हम दोनों ने एक साथ बैठकर खूब बीयर पी दारू पिया चखना खाया और मज़े करें।

मैं मन ही मन नहीं सोच रही थी मुझे आदमी इतना पहलवान जैसा है तो उसका लौड़ा कैसा होगा। और बस यही विचार मेरे अंदर वासना की तरफ फूट रहे हैं और मैं बस उसका लौड़ा लेना चाहती थी

फिलहाल हमारी पार्टी खत्म हुई और वह मुझे घर तक छोड़ने के लिए अपनी कार लेकर आया। पहले तो मैंने मना किया फिर मैंने सोचा यह अच्छा मौका है और मैं उसकी गाड़ी में बैठ गई।

मैं बातों ही बातों में उसकी जांघों पर हाथ मारती थी ताकि उसे ही है इशारा मिले कि मेरे इरादे क्या है। और कहीं ना कहीं वह भी मेरे यादों को समझ सका चुका था क्योंकि वह भी मुझसे काफी प्यारी-प्यारी बातें कर रहा था और मुझे छूने के बहाने दूर रहा था।

हम घर पहुंच गए और मैं गाड़ी से बाहर निकली और मैंने भी उसी का नाटक किया। वह मुझे संभालने के लिए गाड़ी से बाहर निकला और उसने मुझे अपनी गोदी में उठा लिया।

मैंने कहा मुझे बहुत चक्कर आ रहे हैं क्योंकि मैंने बहुत ज्यादा पी ली है क्या तुम मुझे मेरे बिस्तर तक छोड़ दोगे। उसने कहा मैं छोड़ दूंगा उसने मुझे अपनी पहलवान जैसी बॉडी अपने मजबूत हाथों से मुझे उठा कर मेरे घर तक लेकर गया।

मैं बस उसकी आंखों में ही देखे जा रही थी और उसके मजबूत कंधों को सोहरा रही थी। वह भी मुझे मेरी आंखों में देख रहा था और उसे भी एक चमक मिल रही थी।

और जैसे ही बिस्तर आया उसने मुझे नीचे गिरा दिया और खुद भी मेरे ऊपर गिर गया और मुझे चूमने लगा

फिर हम दोनों एक पल के लिए रुके और आई दूसरों की आंखों में देखा फिर हमने जोर-जोर से चूमना एक दूसरे को चूमना चालू कर दिया।

वह मुझे चुमे जा रहा था और मैं उसे चुमे जा रही थी मैंने उसको पूरा नंगा कर दिया और उसके मैं उसके मसल्स को चूम रही थी।

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

मैं अपनी जबान उसे जूस आ रही थी और वह मेरा वास में रस पी रहा था। हम दोनों एक दूसरे के होंठों को नहीं छोड़ रहे थे और बस एक दूसरे के होंठों को चूम में ही जा रहे थे। सच में वह मुझे इतनी जोर से चूम रहा था कि मेरी सांसे भी खोलने लगी थी और मुझे चरम सुख की प्राप्ति वहीं से होना चालू हो।

फिर वह पूरा नंगा हो गया और मैंने जब उसका मजबूर पहलवान जैसा बदन देखा,  तो बस मजा ही आ गया। फिर मेरी नजर उसके लंड पर गई उसका लौड़ा बहुत ही मोटा और बड़ा था। कम से कम उसका लौड़ा 10 इंच का होगा जिसे देखकर मैं अपनी चूत में उंगली डालने लग गई थी।

मैंने उसे अपने पास लिटा दिया और उसके सीने को चूमते हुए उसके पेट तक पहुंच गई और फिर उसके पेट को चूमते हुए उसके लोड़े तक पहुंच गई।

उसका लंड इतना मोटा और बड़ा था कि पूरा मेरे मुंह में चाहिए नहीं जा रहा था मैं बस उसका टोपा ही चाट रही थी। उसे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था और वह कह रहा था इंडियन लड़कियां सबसे बेस्ट होती हैं।

मैंने कहा हां मुझे पता है मैं व्यस्त हूं और फिर मैंने उसका लौड़ा अपनी चूत में लेने की कोशिश करि। मैं धीरे-धीरे उसके लंड के ऊपर बैठ रही थी जिससे उसका मोटा लंबा लंड धीरे धीरे मेरी चूत में जा रहा था। फिर एकदम से उसने अपना पूरा लंड मेरी चूत में घुसा दिया जिससे मेरी चूत फट गई

मेरे मुह से बस थी निकला – हाय!! रे!! कितना मोटा और लंबा लण्ड ह ये। ऐसा लोड़ा तो मैंने अपनी पूरी जिंदगी में नहीं दिया।

फिर उस काले पहलवान में मेरी चुदाई करना चालू कर दिया और वह मेरी जबरदस्त चुदाई कर रहा था। मैं अपने डंडे जैसे लोड़े को मेरी चूत पर मार रहा था था था था था था था।

ऐसा लग रहा था जैसे वह अपने मजबूत डंडे जैसे लोड़े से मेरी चूत की पिटाई कर रहा हो और जिसमें मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था।

फिर उसने मुझे नीचे लेटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया। और उसने मेरी जबरदस्त चुदाई करना चालू कर दिया भाई मैंने सेक्सी चुंचो को भी दबा रहा था। जिसमें मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था मुझे बार-बार चरम सुख की प्राप्ति हो रही थी और मेरी टांगें बस कांप रही थी।

फिर उसने अपनी चोदने की रफ्तार और ज्यादा बढ़ा दी। एक तो इतना बड़ा लंड उसके ऊपर से जबरदस्त चुदाई मैं तो बस पागल ही हुई जा रही थी। बस कुछ ही देर में उसका झड़ने वाला था और उसने अपना सारा माल मेरे मुंह में छोड़ दिया

मुझे पता भी नहीं चला और पता नहीं कितनी बार मुझे चरम सुख की प्राप्ति हो गई होगी शायद 10-15 बार। उसने मुझे ऐसी शारीरिक संतुष्टि दी थी जिससे कोई भी लड़का आज तक दे नहीं पाया।

error: Content is protected !!