सेक्सी ललिता भाभी की चुदाई

ट्यूशन के बाद अरमान ने किये अपने अरमान ललिता भाभी के साथ पुरे। ललिता भाभी से ट्यूशन पड़ने वाले अरमान ने किया कांड। भाभी की चुत में हाथ देकर मारी उनकी गांड। दिल्ली के रहने वाले अरमान का कहना है की उन्हें अपनी ललिता भाभी काफी सेक्सी लगती थी वो उन्हें देख ट्यूशन में अपना लंड सहलाया करता था। एक दिन जब अरमान ने ट्यूशन पढ़ाती भाभी की दोनों चूची टाइट दिखी तो उसे ललिता भाभी की चुदाई करने का मौका मिल गया।

उस दिन हर रोज की तरह मुझे अपने ट्यूशन जाना था। मुझे ललिता भाभी काफी पसंद थी। उनका पूरा चुदाई के लिए बना शरीर था। ललिता भाभी का पति हरकतों से छका लगता था। 

उस दिन भाभी ने टाइट जीन्स पहनी थी उनकी बुलबुले जैसी गांड देख मेरा लिंग खड़ा हो गया। मैं सभी बच्चो में से पीछे बैठा करता था ताकि मैं भाभी को देख मजे ले सकू। 

भाभी ब्लैकबोर्ड पर लिख कर कुछ समझा रही थी पर मेरी नजर तो उनकी मोटी गांड पर थी जिसे मैं चोदने के सपने देख रहा था। भाभी अपनी गांड हिला हिला कर बोर्ड पर कुछ लिख रही थी। 

तभी वो पलटी और उनकी नजर मुझ पर पड़ी। उन्होंने मुझे खड़ा किया और सवाल पूछने लगी। उनके कहने पर मैं खड़ा नहीं हुआ क्यों की वो मेरा लंड देख लेती। 

पर जब उन्होंने चीला कर बोला तो मुझे खड़ा होना पड़ा। खड़े होते ही ललिता भाभी को मेरा लंड दिख गया और उन्होंने शर्माते हुए मुझे जल्दी से बैठने को कहा।  

उसके बाद भी मेरी नजर भाभी के जिस्म पर थी। मेरा लंड देखने के बाद भाभी की दोनों कड़क चूची उनकी शर्ट से दिखने लगी। ये देख मैं समझ गया की भाभी कामुक हो चुकी है। 

जब छुटी हुई तो उन्हने मुझे वही रोक दिया और सभी बच्चो के जाने के बाद मुझे बात करने लगी। 

ललिता भाभी – अरमान वो क्या था जो आज तुम कर रहे थे ?

मैंने कहा – क्या मतलब?

ललिता भाभी ने मेरे लंड पर हाथ रखा और कहा यहाँ क्या था ?

इसके बाद मेने मैडम के स्तनों पर हाथ रखा और उनकी चूची मसल कर कहा पहले आप बता दो ये क्या है। 

ललिता भाभी हसकर कड़ी हुई और मुझे चूमने लगी। मैं भी उनकी चुत गांड पर हाथ फेरने लगा और मैडम को मजा आने लगा। 

ललिता भाभी ने मुझे सीधा खड़ा किया और मेरा लंड निकाल कर अपने स्तनों पर रगड़ने लगी। 

मेने भाभी की स्तनों के बीच थूका और मजे से उनके स्तनों में लंड रगड़ने लगा। तभी भाभी ने अपनी लाल लिपस्टिक निकाली और हाथो पर लगाने लगी। 

भाभी में मोटे होठ देख मैंने उनके स्तनों को राहत दी और उनके मुँह ने लंड देने लगा। 

भाभी भी अपने होठो से मेरा लंड चूसने लगी। उनकी लिपस्टिक वाले होठो से मेरा लंड भी लाल हो गया। 

लंड पूरा कड़क होने के बाद मेने भाभी को झुकाया और उनकी पैंट आधी उतार कर अपना लंड घुसा दिया। 

मैं भाभी की गांड का छेद मजे से चोदने लगा और भाभी अपनी चुत में ऊँगली करने लगी। 

चोदते चोदते मैं हाफने लगा और रुक गया पर भाभी नही। वो अपनी गांड मेरे लंड पर मारने लगी और खुद को चुदवाने लगी। 

मैंने सब देखा था जब भाभी ने अपनी सहेली को सेक्स टॉय का मज़ा चखाया था। उस वक्त मैं उन्हें देख लंड हिला रहा था और आज भाभी अपनी गांड। मैंने भाभी को निचे लेटाया और उनके साथ लेट कर पीछे से उनकी चुदाई करने में लगा रहा। 

चोदते चोदते मैं उन्हें होठो पर चूमने लगा और भाभी के स्तन दबा दबा कर लाल करता रहा। 

भाभी की गांड गोरी थी और इतनी मोटी थी की मेरे हाथ में भी नहीं आ रही थी। उनकी मोटी गांड पर मैं अपना लंड मारता रहा और मजे से उनकी कामवासना मिटाने लगा। 

भाभी हैश खोने लगी और मैं उन्हें घपा घपा चोदता रहा। चुत से पानी निकलने लगा तो मेने वहा लंड खुसा दिया।

भाभी की चुत पूरी टाइट थी तो मेरे लंड को मजा आने लगा।  

मैंने ललिता भाभी की चुत गांड की माँ चोद दी थी। मेरा खुद पर से आप खो गया तो मैं भाभी की गांड पर चाटे भी मारने लगा। 

भाभी की मार कुटाई करते करते मैं उनकी गांड चुत की माँ चोदने में लगा रहा और मजे से अपने जाम टटो का माल निकलने के लिए तैयार हो गया। 

मैंने ललिता भाभी को उनके बाल पकड़ कर खींचा और उन्हें नंगे फर्श पर घोड़ी बना कर चोदने लगा। उस दौरान भाभी की गांड लाल थी चुत से थूक समान पानी टपक रहा था और भाभी अहह अह्ह्ह चीला रही थी। 

भाभी की घपा घपा चुदाई के बाद मैंने उन्हें पेरो पर बिठाया और उनके मुँह ने बिना रुके लंड अंदर बाहर करने में लगा रहा। 

मुँह चुदाई के बाद भाभी के मुँह में मैंने अपना सारा वीर्य तरल उनके मुँह पर गिरा दिया। 

कुछ भाभी की नाक में गया तो कुछ उनकी आँखों में और भाभी उंगलियों से सारा माल चाटने लगी। 

भाभी के सुंदर शरीर को देख मैं कामुक हो गया और अपने माल से लिपटे उनके होंठों को फिर चूमने लगा

भाभी की गांड पर मेने चार पांच और चाटे मारे और सेक्सी ललिता भाभी की चुदाई करके मैं उन्हें प्यार से चूमता रहा और भाभी मुझे प्यार दे देखती रही। 

भाभी – इस बारे में किसी को मत बताना। 

मैंने कहा – अपने शरीर के छेद किसी को मत देना इनपे अब मेरा हक़ है। 

ये थी मेरी देसी सेक्स स्टोरी अगर आपको अच्छी लगी तो कमेंट जरूर करना। उसके बाद ललिता भाभी और मैं चोदा चोदी करते रहे। ये थी मेरी कहानी सेक्सी ललिता भाभी की चुदाई। 

error: Content is protected !!