साली मान गई चुदाई के लिए जब जीजा जी ने दिया पैसे और शौहरत का लालच

यह एक जीजा और साली की अन्तर्वासना कहानी है, जिसमे साली एक हीरोइन बनना चाहती है, तो जीजा जी उसे पैसे और शोहरत का लालच है। यह Jija Sali Sex Story पढ़कर आपको  आजाएगा, की किस तरह एक हॉट, सेक्सी, और प्यारी सी लड़की चुदने के लिए मान जाती हैं। 

यह गजब की कहानी मुंबई के बांद्रा शहर की है। यहां के लोग बहुत ही हाई-फाई और अमीर घराने के रहने वाले हैं। इन्हीं में से किसी एक घर की, यह Antarvasna Jija-Sali XXX Story है। 

एक अमीर घराने का परिवार था जिसका बहुत ही बड़ा बिजनेस था। उस घर का सरपरस्त सूरज नाम का व्यक्ति था। वह एक बहुत ही अच्छा बिजनेसमैन था और उसका घर भी बहुत ही बड़ा था। पढ़िए कैसे साली मान गई चुदाई के लिए जब जीजा जी ने दिया पैसे और शौहरत का लालच। और कमेंट करना ना भूले।  

उसने ऐसी औरत से शादी करी थी, जिसका परिवार एक काफी अमीर और अच्छा बिजनेस करता था। उस औरत से शादी करने के बाद सूरज का बिजनेस और भी बड़ा हो गया, और सूरज एक बहुत ही अमीर आदमी बन गया। 

उसकी जान पहचान कहीं बड़े-बड़े लोगों से हो गई और उसका उठना-बैठना कई इंडस्ट्री के दिग्गजों के साथ बन गया। सूरज की बीवी बहुत ही सुंदर आकर्षक औरत थी, जिसकी एक छोटी बहन भी थी। 

उसकी छोटी बहन का नाम सोनिया था, जो कि एक बॉलीवुड हीरोइन बनना चाहती थी। वह लगभग दो महीने से अपनी दीदी और सूरज के घर में ही रह रही थी। क्योंकि उसने अपनी कॉलेज की पढ़ाई पूरी कर ली थी, और अब वह अपना करियर बनाना चाहती थी। 

वह अपना व्यवसाय बॉलीवुड हीरोइन की तरह बनाना चाहती थी, तो इसलिए उसे मुंबई आना पड़ा। क्योंकि वह एक दिल्ली की हॉट और सेक्सी लड़की थी। और उसे अभिनय करना बहुत ही पसंद था, वह अक्सर कॉलेज में छोटे-छोटे रोल करती थी।

कॉलेज के सारे लड़के, सोनिया के ऊपर मरते थे, और उसे अपनी महिलामित्र बनाना चाहते थे। लेकिन सोनिया का लक्ष्य एकदम सीधा और स्पष्ट था, वह सिर्फ एक बॉलीवुड हीरोइन बनना चाहती थी। 

और उसे इसके लिए कुछ भी करना पड़े, वह करती क्योंकि वह एक समझदार लड़की थी। उसे पता था कि उसके भैया-भाभी मुंबई में रहते हैं जहां से उसका खर्चा भी बचेगा। 

वहा आसानी से इंटरव्यू देने के लिए कई सारी फिल्म सिटी में जा सकती है। सूरज की सोनिया के ऊपर बहुत ही ज्यादा Antarvasna थी। क्योंकि सोनिया का शरीर बहुत ही हॉट और सेक्सी था किसी भी हीरोइन की तरह। 

सूरज अक्षर सोनिया के ऊपर कई डोरे डालने की कोशिश करता था। लेकिन सोनिया को इस बात का जरा भी एहसास नहीं होता था और वह अपने कामकाज में लगी रहती थी। 

एक दिन की बात है, 

जब सूरज घर जल्दी आ गया और सोनिया अभी लौटी नहीं थी। तो सूरज सोनिया के कमरे में चला गया और सोनिया के कपड़े ढूंढने लगा।

अचानक! उसे सोनिया की ब्रा और कच्छी मिल गई। क्योंकि सूरज के अंदर सोनिया के लिए बहुत ही ज्यादा ठरक और कामवासना की इच्छा थी। वह सोनिया की कच्छी को लेकर, अपने लंड पर मसलने लगा। 

इसी दौरान, वह अपनी अंतरवासना सोचने लगा कि वह सोनिया को चोद रहा है। और सोनिया उसे पूर्ण कामवासना की संतुष्टि दे रही है। इस काम को अंजाम देते हुए, सूरज अपने इच्छाओं में मगन हो गया। 

तभी अचानक! सोनिया घर आ गई और अपने कमरे में चली आई। दरवाजा खोलते ही उसने अचानक यह देखा –  कि उसके जीजा नंगे है। और उसके ब्रा और पेंटी को अपने लंड पर मसल रहे हैं। 

यह देखते ही सोनिया हैरान हो गई, 

और बोली – जीजा जी यह क्या कर रहे हो? 

सूरज भी बहुत ही ज्यादा दंग रह गया। 

क्योंकि सूरज एक बहुत ही बढ़िया बिजनेसमैन था, तो उसने इस हालात को अच्छे से संभाल लिया। 

उसने सीधे ही बोला – मुझे तुम्हारे लिए बहुत ही ज्यादा कामवासना की इच्छाएं हैं।

सोनिया बोली – मुझे पता है, कि आपके अंदर मेरे लिए ठरक है। 

सूरज बोला – तो इतने नखरे क्यों दिखा रही थी? तुम अभी तक मेरे पास क्यों नहीं आई? 

सोनिया बोली – आप मेरे जीजाजी हो और आपने मेरी बड़ी बहन से शादी की है। तो, मैं आपके साथ यह सब करने की सोच भी कैसे सकती हूं। 

सूरज बोला – अरे! आज के जमाने में तुम कैसी बातें कर रही हो। और वैसे भी “साली तो आधी घरवाली होती है”। 

सोनिया बोली – आधी घरवाली होती है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि, आप उसके साथ आधी सुहागरात भी मना लो। 

सूरज बोला – मुझे पता है, कि तुम एक बहुत ही बढ़िया अभिनेता हीरोइन बनना चाहती हो। और इसके लिए तुम बहुत ज्यादा मेहनत भी कर रही हो। 

सूरज बोला – लेकिन इस इंडस्ट्री में पैसा और जान-पहचान ही चलती है। अगर तुम्हें इंडस्ट्री में कुछ करना है, तो तुम्हें पहले कुछ मेरे लिए करना पड़ेगा। 

सूरज बोला – मैं तुम्हें इतना पैसा दूंगा, जितना तुम बोलोगी। और मेरी जान-पहचान काफी प्रड्यूसर के साथ है जो की फिल्में बनाते हैं। 

अगर तुम चाहो तो, मैं तुम्हारी उनसे बातचीत करवा सकता हूं और तुम्हें रोल दिलवा सकता हूं फिल्मों में। 

सोनिया यह सब सुनकर हैरान रह गई और सोचने लगी बात तो सही बोल रहे हैं, जीजा जी। 

फिर सोनिया बोली – मैं यह सिर्फ एक बार करूंगी और इसके बाद आप अपना वादा निभाएंगे। 

सूरज बोला – एक बार भी मेरे लिए बहुत है, बस तुम हां बोल दो। 

सोनिया ने हां बोल दिया। 

यह सुनते ही सूरज बहुत ही तेजी से भागा और सोनिया के गले लग गया। वह सोनिया को सूंघने लगा और उसके गर्दन पर चूमने लगा। 

सोनिया बोली – जीजा जी कैसी हरकतें कर रहे हो? 

सूरज बोला – क्या करूं हीरोइन जी? मेरे अंदर तुम्हारे लिए बहुत ही ज्यादा और गंदी-गंदी कामवासना की इच्छाएं हैं। 

इसके बाद सूरज ने सोनिया को एक जोरका चुम्मा दिया और उसके होठों को चूसने लगा। वो उसके होठों को बहुत ही देर तक चूसता रहा क्योंकि सोनिया एक बहुत ही सुंदर और प्यारी लड़की थी। 

इसके बाद सूरज बेड पर लेटा गया, 

और सोनिया से बोला – आओ मेरे पास आओ।

सोनिया सूरज के पास गई और उसके लंड की मुठ मारने लगी। फिर उसने धीरे से अपने मुंह से सूरज के लंड पर एक चुम्मा दिया। 

इसके बाद उसने पूरा लंड सूरज का अपने मुंह में ले लिया। और उसे चूसने लगी आइसक्रीम की तरह। 

सूरज की शक्ल को देखकर लग रहा था की उसे बहुत ही मजा आ रहा है, क्योंकि उसे चरम सुख की प्राप्ति हो रही थी। 

उसके बाद सूरज ने सोनिया को लेता दिया। और अपने लंड को सोनिया के दोनों स्तनों के बीच रगड़ने लगा। फिर जब उसे पूर्ण संतुष्टि हो गए उसने अपना लंड सोनिया की चूत में डाल दिया। 

सोनिया एकदम से चीख पड़ी, तो सूरज ने उसे किस करके चुप कर दिया। फिर उसने सोनिया के दोनों टांगों को पीछे किया और जोर-जोर से चोदने लगा। वह सोनिया को बहुत जोर-जोर से चोद रहा था, कि हर बार ताली बजना जैसी आवाज आ रही थी।

और सोनिया को चोदते-चोदते, सूरज उसके चुँचो को भी दबा रहा था। सूरज जैसे-जैसे सोनिया को ठोक रहा था, वैसे उसके बड़े-बड़े स्तन ऊपर नीचे हिल रहे थे। 

यह देखकर सूरज और भी ज्यादा उत्तेजित हो गया और वे सोनिया को दबा-दबा कर चोदने लगा। 

फिर उसके बाद उसने सोनिया को डॉगी पोजिशन यानी कुतिया की तरह होने को बोला। 

क्योंकि सोनिया की गांड बहुत ही मोटी और सेक्सी थी। उसने फट से अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया। और उसे जोर-जोर से ठोकने लगा, साथ ही उसकी गांड पर थप्पड़ भी मारने लगा। 

सोनिया को भी मजा आ रहा था, 

और बोली – जीजाजी धीरे से करो दर्द हो रहा है…। 

जीजा जी मजा आ रहा है, मारो! मेरी गांड पर और थप्पड़ मारो। 

यह सुनकर, सूरज ने सोचा, लगता है सोनिया अपने कैरेक्टर में आ गई है और उसे भी मजा आने लगा है। 

इसके बाद, उसने सोनिया को अपने ऊपर किया और खुद नीचे हो गया। और सोनिया को चोदने लगा। 

सोनिया बोली – इस सेक्स पोजीशन में बहुत मजा आ रहा है…….. , जीजा जी। चोदो मुझे चोदो। 

तो सूरज एकदम से रुक गया, लेकिन सोनिया नहीं रुकी और वो लड़की अपनी गांड कुडाती रही सूरज के लंड पर। 

और बोलने लगी – आह!!!!! ऊह !!!!!! बहुत ही मजा आ रहा है,…… जीजा जी……..। हमने यह पहले क्यों नहीं किया???????

सूरज बोला – तो अब कर लो, मुझे भी बहुत ही मजा आ रहा है…. और मेरा बस झड़ने ही वाला है। मेरे लंड से मेरा सारा वीर्य बस निकलने ही वाला है। 

सोनिया बोली – अपने लंड को जरा समझाओ और थोड़ी देर और रुकजए। क्योंकि मेरा भी कम होने वाला है, और मैं चरम सुख प्राप्त करने वाली हूं। 

इसके तुरंत बाद सोनिया और सूरज दोनों का एक साथ झड़ गया और सूरज ने अपना लंड बाहर निकाला। उसके लंड से सारा माल पिचकारी की तरह सूट-सूट करके निकल रहा था। 

सोनिया और सूरज दोनों ही बहुत ही ज्यादा थक गए और जोर-जोर से सांसे भरने लगे। 

सोनिया ने हंसते हुए बोला – “जीजाजी आप कितने माधर्चोद आदमी हो”। 

आपने एक प्यारी, हॉट, सेक्सी, और सुंदर लड़की से क्या-क्या काम करवा दिया। सूरज बोला – कोई बात नहीं, इसके बाद तुम अपनी तरक्की की बुलंदी छूने वाली हो। 

आशा करते है आपको यह Hot Indian sex story पढ़कर मज़ा आया होगा, अगर हा, तो हमें अपने सुझाव कमेंट करके जरूर बताये। और आप हमें अपनी कहानी भी साझा कर सकते है हमारे (अपनी कहानी भेजो) वाले पेज पर।