वासना की भूखी हॉट मौसी को रंडी बनाकर चोदा!

मेरी मम्मी की दोस्त शर्मिला मौसी बहुत ही ज्यादा सेक्सी और हॉट थी। मैं अक्सर हमारे घर मम्मी के साथ चाय पीने के लिए आती थी और दोनों खूब घंटों तक बातें करते थे। परंतु मेरा ध्यान सिर्फ शर्मिला मौसी के बड़े-बड़े स्तन और उनके सेक्सी फिगर पर रहता था।

उनके जैसी हॉट औरत मैंने आज तक देखी नहीं की और रात को उनके बारे में सोच कर मैं मुठ मारा करता था। और मैं बहुत ही ज्यादा जबरदस्त तरीके से अपनी मौसी की चुदाई करना चाहता था जिनके लिए मैंने ➡Antarvasna Stories पढ़ना भी चालू कर दिया था।

उनके बल खाते हुए बदन और उनकी खूबसूरती गोरे शरीर को सोचते हुए और उनकी याद में मैं मुठ मारा करता था। ऐसा लगा था मौसी को चोदने का सपना कभी नहीं पूरा होगा, परंतु उस दिन सब कुछ बदल गया। जब,

मौसी हमारे घर एक रात रुकने के लिए आई हुई थी। उस दिन उन्होंने नीली साड़ी पहन रखी थी और उसमें कसम से वह बहुत ही ज्यादा हॉट और सेक्सी लग रही थी। उनको देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया और उसे पानी टपकने लगा और दो मैंने अपनी भावनाओं को संभाला।

हर बार की तरह मम्मी और मौसी की बातें लंबी चल रही थी और मैं अपने कमरे में अकेले मौसी के बारे में सोच रहा था।

काफी ज्यादा रात हो गई थी और मौसी अपने कमरे में सोने के लिए चली गई, मम्मी भी पापा के साथ अपने कमरे में चली गई। मुझे नींद नहीं आ रही थी और मैं रात भर मौसी के हॉट फिगर के बारे में ही सोच रहा था।

तो मेरे मन में एक चुनौती और मैंने यह सोचा क्यों ना मौसी के कमरे में चोरी छुपे झांक आ जाए और अपनी हवस मिटाई जाए उनको देखकर मुट्ठ मार कर।

मैं मौसी के कमरे के पास पहुंचा और दरवाजे के पीछे से उनके कमरे में झांकने लगा। मेरी आंखें फटी की फटी रह गई जब मैंने यह देखा मौसी मोबाइल में पोर्न वीडियो देख रही है और अपनी चूत में उंगली कर रही है।

मौसी जी की गोरी गोरी चूत झांटो वाली देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और से पानी टपकने लगा। मैं अपने पचाने के अंदर हाथ डाल कर अपना लंड मसलने लगा दी अपनी चूत में उंगली कर रही थी जहां मैं अपने लंड को रगड़ रहा था।

तभी अचानक मेरा हाथ लगाओ दरवाजा खुल गया मौसी ने मुझे देख लिया और डर के मारे चद्दर होरली। मेरा लंड अंडे की तरह खड़ा पजामे से बाहर सलामी दे रहा था। मौसी जी बोली – राहुल बेटा तुम यहां क्या कर रहे हो?!

मैं – कुछ नहीं मौसी बस में यहां से गुजर रहा था तभी दरवाजा खुलेगा।

मौसी – तुम्हें और तुम्हारे सलामी देती तो आपको देखकर लग तो नहीं रहा तो वहां से गुजर रहे थे।

मौसी – ओह राहुल, तुम्हारी टॉप कितनी बड़ी है तुम्हारी उम्र के हिसाब से।!!

मुझे लगा मुझे वहम हो रहा है, या सच में मौसी ऐसी बातें कर रही है मेरे से।

तो मैंने पूछा मौसी से पुझा – यह आप क्या बोल रही है मौसी जी?!!

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

मौसी चलो भी राहुल अब इतने भोले मत बनो तुम्हारा लंड काफी बड़ा हो चुका है।

मौसी ने अपनी दोनों टांगों को फैला दिया और अपनी झांट वाली चूत दिखा कर बोली – यहां आओ राहुल!!!

मेरी तो जैसे उस दिन चांदी ही हो गई थी मेरे मन में एक नहीं बल्कि एक दर्जन लड्डू फूट रहे थे।

मैं मौसी की चूत के पास गया और मौसी ने मेरा मुंह पकड़ा और अपनी गिली गिली चूत में  मेरा मुंह लगा दिया।

मौसी जी गिली गिली के लिए गोरी गोरी चूत में से बहुत ही बढ़िया खुशबू आ रही थी और उसे चाटने में बहुत मजा आ रहा था।

मैसी – आह!! आह!! राहुल… तुम कितना बढ़िया चाटते हो!!!

मुझे यकीन नहीं हो रहा था कोई औरत ऐसी भी बातें बोल सकती है, लेकिन यह सब कुछ सचमे हो रहा था। मुझे तो यह सब किसी ➡Indian Sex Stories की तरह लग रहा था।

लेकिन मैंने इसके बारे में ज्यादा सोचा नहीं और मौसी की चूत चाटने के बाद अपना बड़ा साल लंड मौसी की चूत में घुसा दिया। कितने समय से मैं अपनी hot mausi ki chudai करना चाहता था और और मुझे यह मौका मिल गया।

मैं मौसी की जबरदस्त तरीके से चुदाई करने लगा और घचाघच उनकी चूत की चुदाई करने लगा। मौसी के बड़े-बड़े स्तन मेरे लंड के वार से ऊपर नीचे हिल रहे थे।

मैसी – आ आ आ आ आ तुम… तो बहुत ही दमदार हो…!! राहुल??!!!

मैंने बोला – सच में मौसी… आपको मजा आ रहा है, मेरी चुदाई से?!!!

मौसी – हां! हां! मुझे बहुत ज्यादा मजा आ रहा है… तुम्हारी चुदाई से, चोदो अपनी मौसी को और जोर से चोदो!!

यह सुनने के बाद मेरे लंड में बिजली सी दौड़ गई और मैंने मौसी को बहुत ही जोर से पकड़ा और खचाखच उनकी चुदाई करने लगा।

फिर मैंने मौसी के बड़े बड़े स्तनों को सहारा बना कर पकड़ा और उनके जबरदस्त चुदाई करने लगा।

मौसी – अरे!!! तुम… तो मेरे स्तनों को उखाड़ दोगे….!!!

परंतु, मैं मौसी की जबरदस्त चुदाई कर ही जा रहा था और फिर नाम के बड़े बड़े स्तनों पर छोटे भी मार रहा था।

में – रंडी मौसी!! मज़ा आ रहा है न!!!

मौसी – हां… राहुल… तुम्हारी मौसी रंडी है… इसे रंडी बनाकर चोदो!!!!

फिर मैंने मौसी को घोड़ी बनाया और घोड़ी बनाकर उनकी चूत की जबरदस्त चुदाई करने लगा। जितनी बार में मौसी की गांड पर अपने लंड से बात कर रहा था उतनी बार मौसी की गांड थप्पड़-थप्पड़ हिलती थी।

चोदते चोदते में मौसी के कांड पर थप्पड़ भी मार रहा था उनकी पीठ के ऊपर खरोच भी मान जाता हूं मतलब उन्हें बहुत ही प्रचंड तरीके से चोद रहा था।

मौसी – तुम तो चोदने में माहिर हो राहुल मुझे चर्मसुख की बार-बार प्राप्ति हो रही है।।!!!

मैं – ये ले चुडक्कड़ मौसी तुझे और जोर से चोदूंगा!!!

फिर मेने मौसी को अपने ऊपर लेट आया और उनको हल्का सा उठाकर उनकी खचाखच खचाखच चुदाई करने लगा। मेरी तेज रफ्तार वाली चुदाई से मौसी को बार-बार चरण सुख की प्राप्ति हो रही थी जिससे वह अपना मुंह दाएं बाएं हिला रही थी।

वह किसी नशे रन औरत की तरह बोल रही थी – हां राहुल चोदो, मुझे चोदो, तुम्हारा मौसा तो मुझे चोद नहीं पाता, तुम ही मुझे शारीरिक संतुष्टि दे रहे हो!!!

मेरा भी झड़ने वाला था मैंने अपनी उंगली मौसी की गांड में घुस आई और उन्हें खचाखच चोदने लग गया। मैं उनको बहुत ही तेजी से चोदे ही जा रहा था और जैसे ही मेरा झड़ने वाला था मैंने अपना सारा माल मौसी की चूत में झाड़ दिया।

मौसी – आ! आ… आ…. अहह….!!! ऊह… आ आ आ आ अहह!!!!!….!!!!

में – ओह!!! ओह्ह!!! बहनचोद!!!!!!  चूत में झाड़ में में कितना मजा आता है……!!!

इतनी जबरदस्त मौसी की चुदाई करते ह मेरा बदन टूट गया था और मौसी का भी बार-बार चरम सुख होने से वह भी एक दम टूट गई थी।

वह मेरे ऊपर किसी बेहाल की तरह गिर गई और जोर-जोर से हम दोनों सांसे भरने लगे।

error: Content is protected !!