गर्ल्स हॉस्टल में गंदी मस्ती भाग – 1

गर्ल्स हॉस्टल ऐसी जगह है जहां पर केवल लड़कियां ही रहती हैं। जो लड़कियां कॉलेज में पढ़ने आती हैं या अपने शहर को छोड़कर दूसरे शहर जाती हैं। इस कहानी में पड़े की कैसे दो जवान और सूंदर लड़कियों ने एक दूसरे को चरम सुख की प्राप्ति दी। मजेदार बात ये इन दोनों का ये लड़की लड़की चुदाई अनुभव पहला वासना अनुभव था। 

कॉलेज अक्षर लड़कियों का हॉस्टल और लड़कों का होस्टल अलग अलग ही रखते हैं। क्योंकि वह अच्छी तरीके से समझते हैं जवान खून कभी भी गरम हो सकता है और गलतियां कर सकता है। लेकिन लड़की को केवल वासना संतुष्टि के लिए लड़कों की आवश्यकता नहीं होती। 

इस Lesbian Sex Story में पड़े की कैसे इन लड़कियों के पास कई सारे अन्य विकल्प होते हैं जिससे वह स्वयं संतुष्टि प्राप्त कर सकती हैं। ऐसे ही एक कहानी है दो लड़कियों की जो एक ही हॉस्टल कमरे में रहती थी। वे दोनों फर्स्ट ईयर में आई थी और दोनों ने एक साथ ही एक ही फील्ड में एडमिशन लिया था। 

एक लड़की का नाम मेघना था और दूसरी लड़की का नाम रजनी था। 

और किस्मत से दोनों को एक ही हॉस्टल रूम भी मिला और उन दोनों को कॉलेज खत्म होने तक साथ ही रहना था। अक्सर यही होता है जिन लड़को लड़कियों को एक साथ हॉस्टल मिलता है उन्हें कॉलेज खत्म होने तक साथ ही रहना पड़ता है। 

कॉलेज के दिनों में यह युवा काफी सारी यादें और खुशनुमा एहसास लेते हैं। जहां लड़कों के हॉस्टल में लड़के लड़कियों के लिए तरस जाते हैं। और उन्हें केवल लड़कियों को कॉलेज टाइमिंग समय में ही देखकर संतुष्टि प्राप्त करनी होती है। लड़कों को लड़कियां ना मिलने पर उनके पास एक ही विकल्प होता है, अश्लील तस्वीरें देखना और हस्तमैथुन करना। 

परंतु लड़कियों के पास कई सारे विकल्प होती हैं और वे चाहें तो एक-दूसरे से भी सस्ती ले सकती हैं। ऐसा ही कुछ किया मेघना और रजनी ने भी और इन दोनों ने गर्ल्स हॉस्टल में की गंदी मस्ती। वह दोनों काफी अच्छी मित्र बन गई और एक साथ काफी खुशी से भी रहती थी। 

परंतु मेघना काफी शरारती लड़की थी और उसे कामवासना और क्रिया कर्म में काफी दिलचस्पी थी। रजनी उसके उलट में एक सीधी-सादी और साधारण सी सुंदर लड़की थी। एक रात की बात है जब मेघना अश्लील तस्वीरें देख रही थी। तो है यह सब बासना क्रिया देखते देखते गरम हो गई। 

क्योंकि रजनी और मेघना एक ही बिस्तर पर एक साथ सोती थी। रजनी ने मेघना से बोला – तुम यह सब मत देखा करो, मुझे पसंद नहीं है। और तुमने मुझे भी इन सब गन्दी चीजों की आदत लगा दी है। 

मेघना बोली – यार यही सच्चाई है, और इसी में ही असली मजा है। 

रजनी बोली – तो तुम कोई लड़का क्यों नहीं पटा लेती कॉलेज में…. कितने सारे लड़के हैं। 

मेघना ने बोला – अच्छे लड़के मिलते कहां है और मेरे टाइप के लड़के जल्दी मिलेंगे नहीं। यह वार्तालाप करते-करते मेघना-रजनी के जांघों पर धीरे-धीरे अपना हाथ फेर रही थी। 

रजनी को इस बात का जरा भी एहसास नहीं हुआ और वह भी धीरे-धीरे वासना में भरने लगी। क्योंकि दोनों एक साथ एक ही बिस्तर पर अश्लील तस्वीरों का आनंद उठा रही थी। 

अचानक से रजनी अपने मुंह से गरम-गरम हवा छोड़ने लगे और मेघना से बोली – यह एहसास कुछ अलग है, मेघना। 

मेघना ने जवाब दिया – हां। पता नहीं, लेकिन यह एहसास में बहुत ही आनंद दिला रहा है। फिर यह वार्तालाप करते-करते, धीरे-धीरे दोनों एक-दूसरे से चिपट गए। और मेघना ने रजनी को एक जोरदार चुम्मा दे दिया। 

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

पहले तो रजनी हैरान और परेशान होकर दूर हट गई। परंतु मेघना उसके पास गई और बोली – कोई बात नहीं यह साधारण बात है। और हम दोनों कितनी अच्छी दोस्त हैं, यह बात इस कमरे में ही रहेगी, मैं वादा करती हूं। 

रजनी को मेघना के ऊपर पूरा विश्वास था। और इसी विश्वास के साथ रजनी ने मेघना को चूमना शुरू कर दिया। दोनों जवान महिलाओं के नर्म-नर्म होंठ एक-दूसरे से चिपके हुए थे। और दोनों एक दूसरे के वासना का रस अपने होठों से पी रहे थे। सिर मेघना रजनी के बड़े-बड़े स्तनों को अपने हाथों से आटे की लोई की तरह मसलने लगी और दोनों Girls hostel mein chudai कर रही थी। । 

रजनी भी मेघना की बड़ी गोल-गोल गांड को अपने हाथों से दबाने लगी। दोनों आपस में चिपके हुई थी और क्रियाकर्म की वासना में बह रही थी। फिर दोनों ने एक-दूसरे के कपड़े उतार दिए और रजनी बिस्तर पर लेट गई। 

मेघना उसी होठों से चूमते-चूमते धीरे-धीरे नीचे आ गई। और उसके स्तनों को पीने लगी वे उस के दूध को जोर जोर से दबाने लगी। और फिर मेघना और नीचे गई और रजनी की योनि को चाटने लगी। 

रजनी की योनि चाटते-चाटते मेघना को बहुत आनंद आ रहा था। और रजनी भी इसका पूरा लुफ्त उठा रही थी क्योंकि उसे क्रिया कर्म की संतुष्टि प्राप्त हो रहे। रजनी दोबारा मेघना को चूमने लगी। 

और दोनों खूबसूरत जवान महिलाओं के बड़े-बड़े स्तन एक दूसरे से रगड़ खाने लगे। फिर दोनों एक दूसरे की चूत से चूत रगड़ने लगे। उनको चूत से दूसरा करने पर बहुत ही ज्यादा आनंद मिल रहा था और वह एक दूसरे के स्तन जोर-जोर से दबा रही थी। दोनों ने एक-दूसरे की चूत में अपनी-अपनी उंगलियां डाल दी। 

रजनी ने मेघना की चूत में और मेघना ने रजनी की चूत में उंगलियां डाल दी। और दोनों जोर जोर से अपनी उंगलियां अंदर बाहर करने लगी खपाखप खपाखप। इस क्रिया कर्म के साथ दोनों को चरम सुख की प्राप्ति हो रही थी। और दोनों को अंत ही आनंद मिल रहा था, साथ ही वे दोनों अपने योनियों को भी एक दूसरे से रगड़ रही थी। फिर कुछ ही शरण बाद रजनी और मेघना दोनों का एक साथ चरमसुख हो गया। 

और दोनों को बहुत ही मजा आया दोनों एक साथ बिस्तर पर थक्के लेट गई। और अगले दिन से सबको साधारण हो गया दोनों ने अपना कॉलेज दोबारा शुरू कर।

इसके आगे के भाग यह पर पढ़े

[ गर्ल्स हॉस्टल में गंदी मस्ती भाग – 2 ]

[ गर्ल्स हॉस्टल में गंदी मस्ती भाग – 3 ]

क्या आपको यह कहानी पढ़कर मज़ा आया? हमें कमेंट में जरूर बताये। परंतु यह लड़की-लड़की Hindi Sex Story यही नहीं ख़त्म होती और इसके आगे के भाग भी आएंगे, जोकि और भी जबरदस्त और मस्त है। तो हमारी वेबसाइट पर आते रहें।

error: Content is protected !!