गाँव की चुदाई कहानी !

गांव के रहने वाले समर अपनी कहानी ये बता रही है की कैसे उसके दादा ने उसकी माँ को चोदा। देखते ही देखते ये बात जब परिवार के सामने आई तो सब के कच्छी और कच्चे गीले हो गए। अचानक परिवार में सभी लोग चुदाई पर उतर आए। कोई किसी को चोद रहा था तो कोई किसी से चुद रहा था। इसी बीच समर ने भी पारिवारिक चुदाई का पूरा आनंद लिया। समर की गाँव की चुदाई कहानी जरूर पढ़े अगर आपको भी इस तरह की अश्लील कहानियाँ पसंद है।

इन कहानियों पर भी एक नजर जरूर डाले !

  1. स्कूल के सर ने मार्क्स के बदले!
  2. बीवी की जबरदस्त चुदाई कहानियाँ
  3. लॉकडाउन में चोदा चोदी की कहानियाँ
  4. बाथरूम में चुदाई की कहानियाँ

मेरा नाम समर है मेरी उम्र 19 साल है मैं दिल्ली का रहने वाला हु स्टोरी पर आता हु।

मैं दिल्ली में अकेला रहता हु मेरी बाकी फैमली बलिया में रहती है जो की गाँव है मैं दिल्ली में पढ़ाई कर रहा हु बात करीब 2 महीने पहले की है जब मैं गाँव गया इस पर गाँव 5 साल बाद जा रहा था क्योकि मैं हॉस्टल में था।

जब मैं गाँव पहुँच सबसे पहले अपने दादा जी प्रमोद से मिला उनकी उम्र 55 साल होगी वो पहले पहलवान हुवा करते थे जिसकी वजह से वो काफी मजबूत जिस्म के है फिर मैं अपनी मम्मी माधुरी से मिला जो की 38 साल की है जवान औरत है बहुत बड़े बूब्स मस्त गाड़ है।

मेरे पिता जी आर्मी में है मेरे चाचा जिनका नाम अमर है वो 35 साल के है मेरी चाची रेखा 34 साल की है देसी माल है मस्त औरत है ये मेरी फैमली है जब मैं सफर कर के आया तो थकान के मारे सो गया मेरी आँख साम को खुली।

मैं अपने कमरे से बाहर निकला मम्मी सिर्फ पेटीकोट बलाउज में ही टहल रही थी तभी मम्मी ने मुझसे बोला उठ गया और फिर मेरी चाची से मुझे नास्ता देने को कहा चाची ने भी हल्की मैक्सी पहनी थी जिसमे उनकी चुचिया दिख रही थी।

जिगरी यार के साथ की कॉल गर्ल की चुदाई

धिरे धिरे रात हो गयी मैं अपने कमरे में लेट गया गाँव में मछर होने की वजह से मुझे नींद नही आ रही थी तो मैं अपने कमरे से बाहर निकला काफी बड़ा अगन था काफी अंधेरा भी था तभी मैने देखा कोई औरत हाथ में कुछ लिए जा रही है।

मैं पीछे पीछे गया फिर वो औरत दादाजी के कमरे में चली गयी मैं दादा जी के कमरे के पास गया उनके कमरे में किड़की का पल्ला नही था मैं अन्दर देखने लगा मुझे कुछ दिख नही रहा था।

तभी दादा जी बोले बहु लानटेन जला दे जैसे ही लानटेन जला मैने देखा मेरी मम्मी थी उन्होंने सिर्फ सफेद कुर्ता पहना था नीचे सलवार भी नही थी उन्होंने दादा जी को दूध दिया।

उनके साथ बैठ गयी मैने देखा दादा जी मम्मी पकड़ कर किस करने लगे मम्मी भी उनका पूरा साथ दे रही थी दादा जी ने अपने बड़े हाथों से मम्मी की चुचियो को दबाने लगे। मम्मी आआह….ससस….आराम से दबाव …तभी मम्मी ने दादा जी की नेकर नीचे कर दी उनके लड़ को सहलाने लगी उनका लड़ बहुत बड़ा था।

दादा जी ने मम्मी के कुर्ते को उतार दिया मम्मी पूरी नग्गी हो गयी दादा जी बोले बहु अब चाट भी दे मम्मी ने दादा जी का लड़ अपने मुह में ले लिया और चाटने लगी दादा जी हफ्ते हुवे आआह….बहु….आआह…..भर दादा जी ने मम्मी को लिटा दिया।

साली मान गई चुदाई के लिए जब जीजा जी ने दिया पैसे और शौहरत का लालच

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

उनके ऊपर चढ़ गए मम्मी ने लड़ सेट किया दादा जी दक्के लगाने लगे दोनो लोग मस्त में आआह….सससस…..कर रहे थे फिर मम्मी दादा जी के ऊपर आ गयी उछलने लगी आआह…तेज….आआह कुछ देर बाद दोनो गिर पड़े सोने लगे।

मैं वहाँ से चला आया सो गया सुबह उठा नास्ता किया फिर दोपहर को मम्मी बोली बेटा अपनी चाची को खाना दे आ वो खेत में है मैं खाना ले के खेत चला गया इधर उधर देखा मगर चाची नजर नही आ रही थी तभी मेरी नजर केले के खेत में गयी मैं वहां देखने गया देखा तो दग रह गया वहाँ पर  दो मर्द और दो औरते की चुदाई कर रहे थे जिसमे मेरी चाची भी थी।

मैं पेड़ के पीछे से देखने लगा चाची उछाल उछाल कर चुद रही थी दूसरी औरत गाड़ मरवा रही थी करीब 10 मिनट बाद वो लोग अलग हुवे दोनो मर्द कपड़े पहनने लगे और उधर ही चले गए दोनो औरतो कपड़े पहन कर मेरी तरफ आने लगी।

तभी चाची ने मुझे देख लिया और बोली अरे तुम कब आये मैने कहा अभी आया तभी चाची की नजर मेरी पैंट पर गयी मेरा लड़ खड़ा था चाची जान गयी इसने सब देख लिया है

चाची मुझसे बोली किसी से कहना मत मैने कहा ठीक है।

कच्ची कली चोदता पकड़ा गया ठरकी आदमी पीटा गांव वालों ने

फिर चाची मुझसे बोली ये रूपा है मेरी दोस्त उसकी उम्र 30 साल थी तभी चाची ने मेरा एक हाथ रूपा की चुचियो पर रख दिया मैं दबाने लगा फिर रूपा ने मेरे बालो को पकड़ कर अपने गर्म होटो को मेरे होटो से पीने लगी मैने मस्ती में एक हाथ उसकी चुत सहलाने लगा तभी चाची बोली जल्दी कर लो।

रूपा लेट गयी पेटीकोट ऊपर कर लिया मैं नोसिकियो की रहा उसके ऊपर ले गया फिर उसने मेरे लड़ को अपनी चुत में लगा दिया मैने पागलो की तरह दक्के मारने लगा मुझे बहुत मजा आ रहा था…

मैं वासना में आआह ससस….कर रहा था 4 मिनट बाद मेरा माल निकल गया मैं अलग हो गया फिर कुछ देर बाद सब ने खाना खाया और घर आ गए।

आपको कहानी किसी लगी ?
+1
39.3k
+1
74.4k
+1
54
+1
838
+1
94
+1
32
+1
70
error: Content is protected !!