फेसबुक पे पट गई सेक्सी भाभी जिसे चोदा घोड़ी बना कर

कई सारे लोग फेसबुक पर लड़की पटाने के लिए आते हैं। और ऐसे ही एक लड़के की बात चीत एक सेक्सी भाभी से हो गई। बाद में दोनों  एक-दूसरे से मिले और दबा-दबा कर, टकाटक चुदाई करि। इस Bhabhi Sex Story को पढ़कर आपका लंड खरा हो जायेगा, क्योकि यह एक जबरदस्त सेक्सी कहानी है।  

फेसबुक एक बहुत ही बढ़िया सोशल मीडिया है जो कि करोड़ों लोगों द्वारा इस्तेमाल किया जाता है। परंतु ज्यादातर लोग फेसबुक को नए दोस्त बनाने के लिए इस्तेमाल करते हैं। भारत में भी फेसबुक का प्रचलन खूब जोरों शोरों से चल गया है। 

चाहे युवा हो या बुजुर्ग सभी को फेसबुक और व्हाट्सएप चलाना बहुत ही पसंद है। हम इन सोशल मीडिया के माध्यम से कई नए दोस्त बना सकते हैं अपने फायदे के लिए भी। ऐसे ही कई सारे लोग फेसबुक पर लड़की पटाने के लिए आते हैं।

कई लोग अपना जीवन साथी ढूंढने के लिए आते हैं तो कई लोग अपनी अन्तर्वासना को बुझाने के लिए आते हैं। ऐसे ही है यह एक अन्तर्वासना  कहानी है जिसमें एक कॉलेज के लड़के को एक भाभी मिल जाती हैं। इस सेक्सी कहानी को पूरा पढ़कर आपको पता चलेगा की कैसे इससे फेसबुक पे पट गई सेक्सी भाभी जिसे चोदा घोड़ी बना कर इसने।

उन भाभी की शादी हुए बस कुछ ही बरस हुए थे, लगभग दो-तीन साल। तो वो भाभी काफी जवान और हसीन होंगी। उस लड़के का नाम आकाश था जो कि दिल्ली के कॉलेज में पढ़ाई करता था।

आकाश एक काफी होनहार लड़का था परंतु वह भी कामवासना की इच्छाओं से घिरा हुआ था। मैं फेसबुक का इस्तेमाल करता था इस उम्मीद में कि उसे कोई लड़की मिल जाए। जिस लड़की को वह अपनी गर्लफ्रेंड या अन्तर्वासना शांत करने के लिए इस्तेमाल कर सकें।

ऐसे ही एक रात को फेसबुक चलाते-चलाते हैं उसको एक औरत का मैसेज आया। उस औरत ने आकाश को लिखा – हेलो आप कैसे हो?

आकाश ने बोला – मैं ठीक हूं, लेकिन आप कौन हैं, आप मुझे कैसे जानते हैं? 

उस औरत ने बोला – मैंने आपकी फोटोज फेसबुक पर देखी थी और आप मुझे काफी अच्छे लगे। 

यह सुनकर अर्जुन के मन में लड्डू फूटने लगे। और वह मन ही मन खुशी के आंसू रोने लगा।

उसने उस औरत से बातचीत करना शुरू कर दिया और दोनों की खूब अच्छी बातचीत हुआ करती थी। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे से बहुत ही खुल गए और एक दूसरे को समझने लगे।

आकाश में अपनी सभी अंतर्वासना इच्छाओं के बारे में उस औरत को बताया। और बोला – मुझे कभी कोई ऐसी लड़की नहीं मिले जो मेरी अंतर्वासना को शांत कर सके। उस औरत ने भी रिप्लाई दिया – हां! मेरा पति भी हमेशा बाहर ही रहता है।

तो हम दोनों को ज्यादा समय नहीं बिता पाते एक-दूसरे के साथ। इसकी वजह से मेरी इच्छाएं भी दबी हुई है और हम दोनों का रिलेशनशिप भी कुछ अच्छा नहीं है। आकाश ने यह सलाह दी – क्यों ना, हम एक दूसरे के काम आ जाए।

उस औरत ने बोला – कैसे हमें दूसरे के काम कैसे आ सकते हैं। आकाश ने उसे सुझाव दिया तुम मेरे काम आ जाओ मैं तुम्हारे काम आ जाऊंगा।

वह औरत समझ गई कि आकाश क्या बोलने की कोशिश कर रहा है। औरत ने कहा – ठीक है, मुझे थोड़ा सोचने का समय दो, मैं तुम्हें कल बताती हूं।

आकाश ने बोला ठीक है, सोच लो कोई जल्दी नहीं है। 

अगले दिन,

भाभी जी ने उसको हां बोल दिया और कहां ठीक है बताओ कहां मिलना है।

आकाश बोला – मैं होटल बुक कर रहा हूं, ऑनलाइन। जब मैं होटल बुक कर लूंगा तब तुमको उसकी लोकेशन भेज दूंगा। भाभी ने बोला – ठीक है, भेज देना मैं वहां टाइम पर पहुंच जाऊंगी।

आकाश ने कुछ घंटों बाद उसको अपनी होटल की लोकेशन भेज दी और वह औरत समय पर पहुंच भी गई। उन दोनों ने सिर्फ एक दूसरे को फेसबुक प्रोफाइल पर देखा था।

तो जब दोनों ने एक दूसरे को देखा तो दोनों की आंखों में देखते ही रह गए। वो औरत  बहुत ही सुंदर और आकर्षक थी, उसका फिगर एकदम सविता भाभी जैसा था। और आकाश भी दिखने में काफी लंबा चौड़ा और खूबसूरत व्यक्ति था।

उन दोनों ने एक-दूसरे को देखते ही एक दूसरे से हाथ मिलाया। और उस औरत यानी रविता ने प्रकाश के गालों पर एक छोटी सी पप्पी दे। रविता बोली – तुमतो बहुत ही प्यारे और हैंडसम लड़के हो।

आकाश – आप भी बहुत ही खूबसूरत और आकर्षक और सेक्सी हैं, पता नहीं आपका पति आपसे दूर कैसे रहता है?

रविता यह सुनकर हंसने लगे, और बोली – आकाश तुम कितने अच्छे हो।

रविता बोली – तुम्हारी अब तक कोई गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है?

आकाश – मेरी एक-दो गर्लफ्रेंड रही है, मगर वह सब मुझे संतुष्टि नहीं दे पाते। मुझे कोई लड़की से ज्यादा आकर्षण नहीं होता है जिससे मैं उत्तेजित नहीं होता हूं।

तो रविता बोली – तुम किस तरह की लड़कियों से प्रेरित होते हो आकाश?

आकाश बोला – मैं आप जैसी औरतों से उत्तेजित होता हूं। जिनका शरीर बहुत ही आकर्षक बड़े-बड़े स्तन और बड़ी बड़ी गांड हो

यह सुनकर रविता हंसने लगी और बोली – आकाश तुम कितने शरारती हो। तुम सीधे ही अपने दिल की बात खुल कर रख देते हो क्या।

आकाश बोला – हां मैं ऐसा ही हूं अब रविता क्या हमसे बातें ही करेंगे। 

रविता बोली – नहीं हम बातें नहीं करेंगे हम और भी कुछ हरकतें करेंगे।

और यह बोलते ही रविता ने आकाश के होठों पर एक चुम्मा दे दिया। उसके बाद आकाश में रविता का मुंह पकड़ा और दोनों एक-दूसरे को स्मूच देने लगे।

इस तरह एक आदमी और औरत एक दूसरे के होठों से होठ और ज़बान  से ज़बान  लगाकर चूसते हैं।  और साथ ही आकाश ने रविता के बड़े-बड़े स्तनों को दबाना शुरू कर दिया।

रविता के स्तन इतने बड़े-बड़े थे, कि आकाश के पूरे हाथ में भी नहीं समा रहे थे। और आकाश उनके स्तनों को किसी पंचिंग बैग की तरह जोर-जोर से दबा रहा था,

पुचुक-पुचुक“। 

और रविता की गर्दन को भी साथ में चुम रहा था, इसके बाद उसने अपनी उंगली रविता की चूत में डाल दी। और अपने बीच वाली उंगली को रविता की चूत के बीच में घिसने लगा।

रविता बोली – ओह येह! तुम्हें किसी औरत को खुश करना आता है।

आह!!!!! आकाश और जोर से करो, अपनी उंगली मेरी चूत में घुसा दो। 

आकाश ने अपनी एक नहीं बल्कि तीनों ऊँगली रविता की चूत में डाल दी।

रविता को एकदम से चरम सुख की प्राप्ति हो गई और वह बोली – आह!!!!!!!!!!!

इसके बाद, आकाश ने रविता के ब्लाउज के बटन और पेटीकोट खोल, रविता  को पूरा नंगा कर दिया। और खुद भी नंगा हो गया और जाकर सोफे पर बैठ गया।

रविता भाभी उसके पास धीरे-धीरे चल कर आई। और अपनी सुंदर प्यारे मुंह से आकाश का लौड़ा चूसने लगी। उन्होंने अपने नरम-नरम होतो से आकाश के लंड को पूरा गीला कर दिया था।

और वह आकाश के लंड को किसी आइसक्रीम की तरह चूस रही थी।

इसके बाद, आकाश ने रविता की दोनों टांगों को ऊपर कर दियाऔर फिर वो उसकी चूत को चाटने लगा और अपनी जबान उनकी चूत में घुसा दी।

रविता ने आकाश का मुंह पकड़ लिया और अपनी चूत की तरफ और दवा दिया। आकाश किसी कुत्ते की तरह उसकी चूत को चाटे जा रहा था।

और रवीना के मुंह से – “आह!! ऊह!!! चूसो मुझे आकाश और जोर से चुसो“।

आकाश उसे और जोर-जोर से चूसने लगा, कुछ ही देर बाद रविता का झाड़ गया। रविता बहुत ही थक गई और हाफ-हाफ के बोलने लगी। आकाश तुमने आज मेरा दो बार चरमसुख करवा दिया।

इतना दम तो मेरे पति के लंड में भी नहीं है जितना तुमने अपनी जबान से कर दिया।

अकाश बोला – अभी रुक जाओ रविता भाभी मेरा लंड अभी भी प्यासा है। और इसके बाद आकाश में उसकी दोनों टांगों को ऊपर करा और अपने लंड को जोर से उसकी चूत में घुसा दिया।

रविता बोली – धीरे करो! आकाश धीरे, एकदम से मत घुसाओ।

रविता – मैं बहुत ही समय बात कर रही हूं, लगभग छह-सात महीना हो गया है।

आकाश ने अपना पूरा लंड, अपने टट्टो तक उसकी चूत में घुसा दिया। “रविता बहुत ही जोर-जोर से कांपने लगी और उसका शरीर हिलने लगा”।

क्योंकि उसको तीसरी बार चरम सुख की प्राप्ति हो रही थी। इसके बाद अकाश कविता को बहुत ही जोर-जोर से चोदने लगा। वो उसे दबा-दबा कर, टकाटक चोद रहा था।

जितनी बार वो रविता चोदता था उतनी बार उसके बड़े-बड़े स्तन ऊपर-नीचे होते थे। उसके स्तन इतने सेक्सी, मोटे और आकर्षक है, जिससे आकाश और भी ज्यादा उत्तेजित हो जाता था। वह उसके दोनों चुंचो को पकड़कर सहारा बनाकर उसकी चूत को चोदने लगा।

साथ ही वह रविता के चुँचो के निप्पल बहुत जोर से रगड़ने और मरोड़ ने लगा।

इसके बाद आकाश में अपना लंड बाहर निकाल दिया और बबीता को कुटिया पोजीशन में आने को बोला। रविता घोड़ी बन गई और आकाश अपने लंड से रविता को चोदने लगा।

रविता घोड़ी बनी हुई बहुत सेक्सी लग रही थी और उसकी  गांड इतनी बड़ी और गोल-गोल थी, की आकाश उसकी गांड पर थप्पड़ मार-मार कर चोद रहा था।

रविता – आकाश मुझे ऐसे ही तोड़ो, ऐसे ही मेरी गांड पर थप्पड़ मारो।

आकाश मुझे बहुत ही मजा आ रहा है……  और जोर से चोदो! 

अपना सारा माल मेरी चूत में झाड़ दो!!!!!! 

आकाश उसे और जोर-जोर से ठोकने लगा और बहुत ही बल के साथ रविता को चोदने लगा। उसने अपनी सारी मलाई यानी वीर्ये रविता की चूत में झाड़ दिया।

कविता एकदम से चिल्ला पड़ी और बोली – यही तो चाहिए!!!!!!!!! तुमने मेरी चूत को आकाश मजा दिला दिया। आह!!!!!!

और दोनों की कामवासना शांत हो गई, सिर्फ आज के लिए। उसके बाद ही दोनों एक दूसरे से फेसबुक पर चैटिंग करते रहे और मिलते रहे। और आप सोच ही सकते हैं जब-जब यह दोनों कामवासना के भूखे मिलते होंगे तो क्या मंजर होता होगा।

आशा करते है इस XXX Sex Kahani को पढ़कर आपको मज़ा आया होगा और इसे कहानी को आप आगे भी शेयर करेंगे। आप हमारी और भी गन्दी कहानिया पद सकते इस वेबसाइट वेबसाइट पर। हमें अपने विचार भी कमेंट करके जरूर बताये।