भाई ने चोदा बहन को सेक्स कहानी

संकेत ने एक रात अपनी छोटी बहन के साथ कु कर्म और गंदे कांड किए और अपनी यौन जरूरत को पूरा किया। लेखक ने अपनी इस भाई ने चोदा बहन को सेक्स कहानी में बताया की जब उसकी बहन की गांड पर कीड़े ने काट लिया तो उस दौरान उसे चुदाई का अच्छा मौका मिल गया। 

मेरी बहन का शरीर माल था मैं उसे देख अपना लंड हिलाता था। उसकी उम्र 20 साल थी और घर वाले उसके लिए लड़का ढूंढ रहे थे। हमारे खानदान में लड़कियों की जल्दी शादी कर देते थे। 

ये जान कर मैं काफी दुखी था की अब मेरी बहन की चुदाई कोई और अपने गंदे और सड़े हुए लंड से करेगा। मेरी बहन की दूधिया छाती 37 इंच और कमर 25 इंच की थी साथ ही उसकी गांड की तो बात ही अलग थी वो तो सबसे बड़ी 40 इंच की थी। 

बस 20 साल की उम्र में इतना सेक्सी और हॉट शरीर होना काफी अच्छी बात है क्यों की ज्यादा तर लड़किया नेट पर अपने दूध बड़े करने के नुस्के ढूंढ़ती रहती है। 

अपनी बहन की खूबसूरती इस कहानी में बताना काफी मुश्किल है पर मैं आपको ये जरूर बताउगा की भाई ने अपने बहन को कैसे चोदा। 

अब हुआ क्या एक दिन माता जी और बापू खाना खाने के बाद बाहर चले गए। तभी मुझे मेरी बहन की चीख सुनाई देने लगी। उस वक्त मैं छत पर अपने दोस्त से बात कर रहा था। 

मैंने तुरंत फ़ोन काटा और भाग कर नीचे चला गया। नीचे गया तो देखा बहन अपना पजामा और कच्छी आधी उतार कर चीला रही थी। उसे ऐसा देख मैं कामुक हो गया पर वो वक्त सेक्स के बारे में सोचने का नहीं था। 

मैंने पूछा – अरे क्यों चीला रही है और पजामा ऊपर कर अपना !!

बहन बोली (रोते हुए) – नहीं भइया इधर आकर देखो इस बड़े से कीड़े ने मुझे काट लिए है !!

मैं चिलाय क्या हुआ कीड़ा ही तो है !! पर बहन से वो कीड़ा हटाया न गया और मुझे उसके पास जाना पड़ा। अब देख रक मुझे भी समज नहीं आया की वो कोनसा कीड़ा था। 

मैंने जल्दी से हाथ मारा और उसे हटा दिया पर बहन के चूतड़ से खून निकलने लगा। 

अब खून इतना भी बड़ा नहीं था की बहन की हालत खराब हो जाये। बहन को डर था तो बस उस कीड़े का था। 

मैं भाग कर गया और चोट पर लगाने वाली दवा लेकर वापस आया। मुझे देख बहन अपनी कच्छी और पजामा वापस ऊपर करने लगी तो ये देख मैंने उसके कहा अरे रुक रुक पागल दवा लगाने दे मुझे। 

मैंने अपने हाथ पर दवा लगाई और उसके चूतड़ पर मलने लगा। जिंदगी में पहली बार मैंने अपने बहन के चूतड़ों को हाथ लगाया। 

दवा लगते लगते मैं उसे गन्दी नियत से छूने लगा और बहन मेरी आँखों में देखने लगी। अब उसके बड़े और रसीले चूतड़ देख मेरा लंड खड़ा हो गया तो मैं अपना हाथ उसके चूतड़ों के बीच लेजा कर मजे से दबाने लगा। 

अब उस दिन किस्मत अच्छी थी या मेरी बहन रंडी ये तो मुझे नहीं पता पर उसे काफी मजा आने लगा। 

मैंने उसकी गांड को दबाया हिलाया और मजे से सहलाया फिर उसके बाद मैंने वो किया जो मेरी बहन ने सोचा भी नहीं होगा। मैंने धीरे से अपनी बड़ी वाली ऊँगली उसकी गांड के घुसा दी। 

गांड में ऊँगली जाते ही बहन अपनी बड़े बड़े आंखे बोल कर मुझे बोली क्या कर रहे हो। अब उसे बोलने के लिए मेरे पास कुछ नहीं था मैं वही करता रहा जो मैं करना चाहता था। 

गांड से ऊँगली निकाल कर मैंने उसकी चुत सेहलानी शुरू कर दी। अब बहन की योनी हल्की हल्की गीली थी और मैं ये मौका नहीं छोड़ना चाहता था। 

मैं भाग कर गया और जल्दी से घर का दरवाजा अंदर से बंद कर दिया और वापस आकर उसकी योनी चाटने लगा। 

मैंने धीरे से बहन का पजामा और कच्छी उतारी और उसके पैर खोल कर योनी चाटने लगा। तभी मेरी नजर पास में पड़ी चॉकलेट पर गई। मैंने चॉकलेट उठाई और उसे अपनी बहन की चुत पर लगा लगा पर पिघला दिया। 

बहन की चुत अंदर गर्म थी इसलिए चॉकलेट भी पिघल गई। मेरी ये हरकत देख बहन मुझे मुस्कुरा कर देखने लगी। 

बस तभी मैंने अपने दोनों हाथ उसकी कमीज में घुसा दिए और ब्रा के ऊपर से उसके स्तन मसलने लगा। 

बहन के बड़े बड़े दूध दबा दबा कर मैं उसकी चॉकलेट वाली योनी चाटने लगा। उसकी मीठी योनी की वजह से मेरे लिंग से भी रस टपकने लगा। 

वो चॉकलेट बहन की योनी के अंदर तक चली गई थी जिसे मैं अपनी जुबान से चाट रहा था। अब इसे पहले पापा मम्मी घर एते मैं अपनी बहन की गांड और चुत दोनों चोदना चाहता था। 

मैंने जल्दी से अपना रसीला लोडा निकाला और उसे पकड़ कर अपनी बहन की मीठी चुत में घुसा डाला। गर्म योनी का पानी और चॉकलेट की वजह से योनी और ज्यादा चिपचिपी हो गई थी। 

मेरे लंड पर चॉकलेट लगी थी जिसे मैं अपने बहन के मुँह में देने वाला था पर पहले मुझे अपनी बहन की अच्छी चुत चॉदनी थी। 

यही तो मेरी भाई ने चोदा बहन को सेक्स कहानी का सबसे ज्यादा मजेदार हिंसा है। मेरी बहन सोफे पर अपने पैर ऊपर कर के लेटी थी और मैं  अपने लंड से उसकी योनी चोद रहा था। 

लसलसी चॉकलेट वाली चुत की दीवारे अपने लंड से रगड़ने में मुझे काफी मजा आ रहा था तभी मेरी बहन ने बोला भइया मुझे भी चॉकलेट कहानी है प्लीज !!

ये सुनकर मैने अपना लंड निकाला और उसके मुँह के ऊपर कर दिया। मेरी बहन का सर मेरे नीचे था और मैं अपने पैर खोल कर अपनी बहन के मुँह में अपने लंड का चॉकलेट वाला पानी टपकाने लगा।

बहन भी कामुक थी इसलिए उसने अपने आप मेरा लंड मुँह में लेना शुरू कर दिया। मेरा मीठा लंड चाटने में तो उसे भी काफी मजा आ रहा था इसलिए वो उसे जोर से चूस रही थी। 

वो ऐसे चूस रही थी जैसे मेरे लंड से ही मुठा अपनी निकल रहा हो। पर मुझे उसका मुँह नहीं गांड चुत चॉदनी थी इसलिए मैने अपना लंड बहर निकाला और उसकी चुत में देने लगा। 

अब बहन के भोसड़े में से खून तो निकला नहीं था इसलिए मैं जान गया की मेरी बहन ने कही और जाकर भी अपनी मरवा रखी है। जब मेरे दिमाग में ये आया तो मैं गुस्से में उसके दूध नोचने लगा और उसे जोबरदास्त धके लगाने लगा।  

बहन दर्द से चिलाने लगी और बोली भइया मेरी छाती ऐसे बट नोचो !!!

पर मैंने उसकी नहीं सुनी इतने में घर वाले वापस आकर घर का दरवाजा बजाने लगे। बस उसकी वक्त मेरी कमर की रफ़्तार एज हो गई और मैं अपनी बहन जोर चोदने लगा। 

मैंने अपनी कामुक और नाजुक बहन का मुँह दबोचा और जोर जोर से उसके स्तन चूसने लगा। 

मैं ऐसा हो गया था जैसे किसी भिखारी को सालो बाद कहाँ मिला हो। अब इतने में पापा चीला चीला कर दरवाजा खोलने को कहने लगे। 

उस वक्त मेरी गांड भी फ़टी थी और बहन की चुत भी। मैंने उसी वक्त अपनी बहन को 100 की रफ़्तार से चोदना शुरू कर दिया और अपना माल उसकी चुत में झाड़ डाला। 

माल झड़ने के बाद मैंने अपने बहन को जल्दी से कपड़े पहनाए और मैंने घर का दरवाजा खोल दिया। 

पापा ने घुसे में पूछा क्या कर रहा था ?

मम्मी ने कहा जरूर पहने में लगाहोगा !!!

मैंने कहा नहीं छोटी और मैं सो गए थे !!

अब उस दिन तो मैं बच गया। इसके बाद मैंने अपनी बहन को होटलो के कमरों में लेजा कर चोदना शरूर कर दिया। 

मैंने उसकी शादी से पहले खूब गांड चुत चोदी और उसके होने वाले पति के लिए बस फटा भोसड़ा छोड़ा। 

मैं आपको ये भी बताना चाहता हूँ की ये सब जो मैंने बताया ये बस एक साल पहले की बात है। तो बस मेरे छोटे लंड और बड़ी गांड वाले दोस्तों ये थी मेरी भाई ने चोदा बहन को सेक्स कहानी अगर अच्छी लगे तो मुझे मेल कर के जरूर बताना। 

[email protected]

error: Content is protected !!