बहन की चुदाई फ़ोन पे

दिल्ली का ये हरामी लड़का अपनी ही बहन के साथ खेल जाता है। कहानी के लेखक ने अपना नाम तो नहीं बताया पर उसने अपनी बहन के साथ क्या क्या किया वो सब बता दिया। कहानी में लेखक ने अपना नाम राहुल और अपनी बहन का नाम प्रिया बताया है जिसके साथ उसने फ़ोन पे चुदाई की। अगर आपको भी जानना है की फ़ोन सेक्स कैसे करते है तो कहानी को पूरा पढ़े। 

हेलो मेरे हवसी दोस्तों मेरा नाम राहुल (असली नाम नहीं है) है और मैं आज अपनी सेक्स कहानी में अपनी बहन की चुदाई फ़ोन पे करने वाला हूँ इसलिए अपने लंड को पकड़ कर और चुत में ऊँगली कर मेरी कहानी पड़ते रहे। 

मैं रहने वाला तो दिल्ली का हूँ पर मैं अभी मुंबई में रहता हूँ क्यों की मुझे एक एक्टर बना है। मैं मुंबई ने अकेला रह रहा था और मेरी ज़िन्दगी में काफी खाली पन था। मेरा लिंग बार बार खड़ा हो जाता था जिसे देख मुझे पता लग गया की अब मेरा शरीर चुदाई मांग रहा है। 

अब मुंबई में में रह तो रहा था लेकिन मैं किसी रंडी को नहीं बुलाना चाहता था। एक तो मेरे पास पैसे कम थे और ऊपर से अनजान शहर में रंडी बुला कर चुदाई करना सही नहीं था कही उसने मुझे किसी कांड में फसा दिया तो ?

diwwali-banner-gif-min

एक करता भी तो क्या करता मैं फेसबुक और टिंडर पर चुदाई का माल खोजने लगा। मैंने काम के लिए एक नकली ID बनाई और अनजान लड़कियों की फ्रेंड रेक़ुएस्ट भेजता गया। 

तभी मेरे सामने मेरी छोटी बहन का फेसबुक आया जिसे मैंने ऐड कर दिया। मैंने सोचा छोटी बहन से थोड़ी शैतानी करलु पर मेरा उसके साथ कुछ गन्दा काम करने का मन नहीं था। 

मेरे देसी पापा से लड़ झगड़ कर मेरी बहन ने अपने लिए फ़ोन लिया था अब कॉलेज में जा कर फ़ोन की जरूरत तो पड़ती है पर मेरे पापा कुछ पिछड़े दिमाग के था। तभी मैं यहाँ अकेला कुछ बने आया हूँ। 

मैंने कई सारी लड़कियों से बात की पर सेक्स और रिलेशन शब्द सुनकर सब भाग जाती तभी मेरी छोटी बहन ने मुझे मेरी नकली ID पर मैसेज किया और मुझे हेलो कहा। 

वो मुझे नहीं जानती थी इसलिए वो मुझ से पूछने लगी की कौन हो तुम और क्या मुझे जानते हो ?

मैंने मजे मजे में लिख दिया हाँ मैं आपको काफी अच्छे से जनता हूँ। 

ezgif-com-gif-maker
ऑफर्स सिर्फ आपके लिए!

बहन ने हस कर कहा “अच्छा मैं समज गई तुम मोमो हो न सूरज के दोस्त ?”

अब मैंने उसे हाँ बोला और उसे मुझ पर भरोसा हो गया वो मुझ से बाते करने लगी। उसका कोई दोस्त सूरज उसे अपने दोस्त मोमो से मिलवाया होगा जिसे उसने सिर्फ एक बार देखा था। 

मुझे नहीं पता था की मेरी बहन प्रिया अनजान लड़को से खुल कर बात करती है जो मुझे पसंद नहीं आई। 

खेर प्रिय से मैंने कुछ दिन बात की। वो रोज मुझे यानी मोमो को गुड मॉर्निंग का मैसेज करती और मुझे से बाते करने लगती। 

एक रात उसने पूछा की तुम लड़के किसी लड़की पसंद करते हो। 

अपना लंड खड़ा करने के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करे !!

follow antarvasnastory on instagram

तो मैंने उसे कहा जो लड़की दिल की सच्ची और समझदार और काफी ज्यादा प्यार देने वाली हो !!

तो उसने कहा “अच्छा पर मैंने सुना है लड़के तो बस शरीर देख कर करते है !”

मैंने उसकी हाँ कहा और वो मुझ से पूछने लगी की तुम्हे केसा शरीर पसंद है। 

अपनी बहन के साथ ऐसी बाते कर मुझे शर्म नहीं लगी पर साथ ही मेरे लंड से हल्का सा पानी भी टपकने लगा। 

मैंने कहा मुझे दूसरे लड़को का तो नहीं पता लेकिन मुझे बड़े बड़े थन, पतली कमर और मोटे चूतड़ काफी पसंद है वो काफी सेक्सी और हॉट लगते है।  

Phones
अभी देखे! कही ये ऑफर्स आपसे छूट न जाये

बस उसके बाद मेरी बहन ने जो हवस दिखानी शुरू की मेरा तो पूरा लंड तन गया। कुछ देर गन्दी बाते करने के बाद मैंने अपनी बहन को फ़ोन करने को कहा। मैंने सोचा अगर मैं अपनी थोड़ी आवाज भारी कर के उस से बात करुगा तो उसे पता नहीं चलेगा।  

उसने मुझे फेसबुक कॉल किया जिसे उठा कर मैं उस से बाते करने लगा। मैंने अपने मुँह पर रुमाल रखा और अपनी बहन की चुदाई फ़ोन पे करने लगा।  

थोड़ी देर शर्माते हुए बात करने के बाद मैंने उसे से कहा “तुम्हारी चुत गीली हो रही है न ?”

बहन – तुम्हारी बातो से मेरा शरीर गर्म हो गया है !!

मैंने कहा – अभी क्या पहना है तुमने ?

बहन – सलवार सूट क्यों?

मैंने कहा – अरे बाबा अंदर अंदर !!

बहन(हस्ते हुए) – सफ़ेद रंग की ब्रा और काले रंग की कच्छी। 

अपनी बहन की गर्म और कामुक आवाज सुनकर मैंने अपनी पैंट खोली और कच्छे से लंड निकाल कर उसे धीरे धीरे हिलाने लगा। 

बहन – क्या हुआ क्या कर रहे हो ?

home-and-kitchen

मैंने कहा – तुम्हारी आवाज से मेरी कामवासना भड़क रही है !!

बहन – छी कम से कम इतने गंदे तरीके से तो मत बोलो !!

मैंने कहा – जब सर पर चुदाई का बहुत चढ़ता है न तो मुँह से कुछ भी निकलता है। 

बहन – अच्छा ऐसा है तो तुम्हारा वो भी बड़ा हो गया होगा न ?

मैंने कहा – हाँ वही तो हाथ में लेकर तुमसे बात कर रहा हूँ।  

बातो से लग रहा था जैसे बहन को वो मोमो नाम का लड़का काफी पसंद था इसलिए वो इस तरह से बात कर रही थी। 

बहन ( धीमी आवाज में ) – अच्छा तुम्हे पता है मैंने भी अपने वहा हाथ रखा हुआ है ! तुम्हरी आवाज सुनकर मेरे वहा से पानी निकल रहा है। 

भाई – हाथ रखा हुआ है !! अच्छा एक काम करो अब धीरे धीरे अपनी सबसे बड़ी वाली ऊँगली अपने वहा डालो। 

बहन – अहह !! अहंमम अब ?

भाई – अब अपनी ब्रा से अपने थन निकालो और उन्हें चुसो !!

बहन – मेरा मुँह नहीं जाता वहा तक। 

भाई – तो एक हाथ से अपनी चुत में ऊँगली करो और दूसरे से अपने स्तन दबा दबा कर लाल करो !!

बहन – तुम भी करो साथ में मुझे भी तुम्हारी आवाज सुनी है। 

भाई – क्या करू ?

बहन – नारियाल का तेल है आपके पास ?

भाई – हाँ!

बहन – उसे अपने हाथो पे डालो और उसे से अपने पुरे लंड को सहलाओ। एक हाथ से लंड को मालिश करो और दूसरे से अपने नीचे वालो को !

भाई – नीचे वाले क्या? 

बहन (हस्ते हुए) – अरे जहा तुम्हारा पानी बनता है। 

भाई – ओह ठीक है। 

बहन धीरे धीरे अपनी योनी में उनलगी कर उसे चोदने लगी और उसकी तेज लम्बी सासो से मेरे लैंड में हवा भरने लगी। बहन के कहने पर मैं नारियाल कर तेल अपने लंड पर लगा और उसे हिलाने लगा और साथ में अपने टटो को दबाने लगा। उस टटो के दर्द और लंड का आराम मुझे ऐसा सुख देने लगा जो मेरी तेज हवस की आग को शांत करने लगा। 

दूसरी तरफ मेरी छोटी बहन अपनी गीली चुत में ऊँगली करने लगी और अपने स्तन दबा दबा कर लाल करती रही। उसने मुझे फ़ोन पर कहा ” मुझे लड़को के पेट के बिस्कुट और बड़े बड़े लिंग पसंद है। “

जब मैं लड़को के लिंग से हल्का लसलसा पानी टपकता देखती हूँ तो मेरा खुद पर बस नहीं चलता। उनका मोटा लंड ओट नीचे लटकते गोटे देख मेरी चुत में खुजली होने लगती है और कुछ देर में ही मेरी चुत पानी टपकना शुरू कर देती है। 

मेरा दिल करता है की अपनी चुत में कुछ दालु !!

मैंने उस से पूछा की तुम्हे केसा सेक्स पसंद है ?

तो बहन ने कहा ” मुझे जबरदस्त चुदाई पसंद है जिसमे लड़के का शरीर मुझ से बड़ा हो और वो मेरी चुत पर जोर जोर से अपना लंड मारे। मुझे चुदाई के साथ साथ थोड़ी मार पिटाई और गन्दी गालिया सुना भी पसंद है। मैं चाहती हूँ की तुम जब मुझे मिलो तो मेरी चुदाई कर कर के मुझे अपनी रंडी बना दो। “

अब ये सब सुन मेरा लंड शेर से चूहा हो गया। मेरी बहन इतनी बड़ी रांड, हवसी और ठरकी होगी मुझे पता नहीं था। ये सब सुनकर तो किसी भी भाई के हैश उड़ जायेगे।

कुछ देर मेरे दिमाग में बस यही बाटे चलती रही और मैं उसकी सेक्सी आवाजे सुनता रहा। 

फिर मेरे दिमाग में आया की मैं भी तो हरामी, ठरकी और हवसी हूँ तो इसमें गलत है क्या। मेरी बहन की तो इंसान है उसे भी तो सेक्स का मजा चाहिए होगा। 

और बल्कि मैं तो अपनी बहन से भी ज्यादा नीचे गिरा हुआ इंसान हूँ क्यों की मैं ऐसी गन्दी हरकत अपनी ही बहन के साथ कर रहा हूँ जो सिर्फ आज तक मेने Erotic Sex Stories में ही पढ़ा था। 

इसके बाद मेरा लंड फिर सर उठा कर खड़ा हो गया और मैं उसे हिलाने लगा। बहन की कपकपाती आवाज सुनकर मेरे शरीर में कर्नाट भागने लगा और मैं अपने लिंग को फुल स्पीड में हिलाने लगा और अपने गोटे दबा दबा कर दर्द से चिलता रहा। 

यहाँ में अपनी बहन की आवाज सुनकर पागल जानवर हो रहा था और वहा मेरी बहन मेरी आवाज सुनकर। 

भाई -अच्छा सुनो अपना फ़ोन चुत के पास रख दो !!

बहन – अहह अह्ह्ह ममम नहीं अपनी पानी निकलने वाला है फ़ोन खराब हो जायेगा। 

भाई – करो न कुछ मुझे तुम्हारी योनी की आवाज सुनी है !!

बहन – अच्छा ठीक है पर मैं अब अपने स्तन नहीं दबा रही उनमे दर्द हो रहा है लाल हो गए है दोनों !!

मैंने कहा ठीक है और वो मुझे अपनी मीठी चुत की मीठी आवाज सुनाने लगी। 

फ़ोन से कुछ गीली गीली लसलसी आवाजे आने लगी और मेरी भें हल्की हल्की आवाज करती रही। 

चुत की आवाज सुनकर मेरे लोडे में जान आ गई और मैं उस दबा दबा कर हिलने लगा। 

तभी मेरी बहन तेज आवाज करने लगी और मुझे अपनी की धार की आवाज आने लगी !!

जिसे सुनकर मुझे भी तेज सेक्स चढ़ गया और मेने मुठ मार कर अपना माल निकालना शुरू कर दिया। 

मेरा लंड का पानी उछाल कर मेरी छाती और पेट पर गिर गया। अगर वो मेरे मुँह पर भी गिरता तो मैं उसे उस वक्त चाट लेता क्यों की मैं पगल ही इतना हो रखा था। 

लंड का पानी निकल जाने के बाद मैंने अपनी बहन से कहा क्या हुआ तुम्हरा हो गया क्या !!

तभी मेरी बहन थोड़ी देर चुप रही और उसने कोई जवाब नहीं दिया। और उसके बाद उसने फ़ोन काट दिया। 

उसने जब फ़ोन कटा तो तब मुझे पता लगा की मैंने अपने मुँह पर रुमाल नहीं रखा था जिस से उसे पता लग गया की मैं उसका भाई हूँ। 

हम दोनों सेक्स और चुदाई के नशे में इतना डूब गए की न मुझे रुमाल का पता लगा और न उसे मेरी आज का। 

जब हमारा गन्दा पानी निकला तो हमें अक्ल और होश दोनों आए। उसके बाद से मैं कभी घर लौटने की हिमत नहीं कर सका। 

अपनी बहन से में कैसे आंखे मिलता ? क्या बोलता उसे ? की मेने उसके साथ फ़ोन पर चुदाई की ?

मुंबई में रहते रहते मैं एक्टर तो नहीं बना पर मुझे यहाँ एक ठीक थक जॉब मिल गई और अब मैं यही अकेला रहता हूँ पापा और माँ से कभी कभी बात कर लेता हूँ और एक्टर बने की कोशिश करता रहता हूँ। तो दोस्तों ये थी मेरी चुदाई कहानी अगर अच्छी लगी तो मेल कर के जरूर बताना। 

error: Content is protected !!